Gogamedi Murder Case: स्कूटी सवार हेमराज खटीक अब भी जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहा जंग, पत्नी बेटी लगा रही न्याय की गुहार, सुध लेने वाला कोई नहीं
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan2002852

Gogamedi Murder Case: स्कूटी सवार हेमराज खटीक अब भी जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहा जंग, पत्नी बेटी लगा रही न्याय की गुहार, सुध लेने वाला कोई नहीं

Sukhdev Singh Gogamedi Murder : जयपुर में सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद से बवाल मचा हुआ है. हत्यारों ने हेमराज की गर्दन में मारी और आरपार निकल गई. आखिर कौन है वो स्कूटी सवार जो गोगामेड़ी की हत्या के बाद जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है.  

हेमराज को मुआवजा की मांग

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: 5 दिसंबर को राजस्थान की राजधानी जयपुर में हुई श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद से बवाल मचा हुआ है. 

साथ ही इस घटना के बाद कई जगह प्रदर्शन भी हुआ लेकिन इस घटना के बाद भागते समय शूटरों ने जिस स्कूटी सवार को गोली मारी थी उसका सुध लेने वाला कोई नहीं है. आइए जानते हैं आखिर कौन है वो स्कूटी सवार जो गोगामेड़ी की हत्या के बाद जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है.  

हेमराज का परिवार सब्जी बेचकर चलाती है घर

हेमराज खटीक के सगे भतीजे राकेश खटीक ने घटना का जिक्र करते- करते उनके आंखें डबडबा गई. राकेश खटीक ने अब चाचा के परिवार पर विपत्ति आ गई. हेमराज के माता-पिता बुढ़े है और वे देई में रहकर जीवन यापन करते हैं. हेमराज की तीन छोटी -छोटी बेटियां हैं, जो एक मामूली प्राइवेट स्कूल जयपुर में पढ़ाई करती है.

हेमराज के भतीजे ने सुनाया दुखड़ा

वहीं जब हेमराज की पत्नी के बारे में पूछा तो भतीजे ने बताया कि उनकी सब्जी बेचकर परिवार चलाती है और हेमराज चिड़ियों का दाना चुग्गा बेचने का काम करता है. हेमराज की नाजुक हालत के बाद अब परिवार पर जिंदगी गुजर बसर से लेकर बेटियों की जिंदगी का क्या होगा. एक साथ कई संकट आ गया है. हेमराज के परिजन सरकार से मदद की गुहार लगा रहे हैं.  उनके परिवार को भरोसा है कि ऐसे हालात में उनकी सरकार जरूर सुनेगी. वहीं इस घटना का उनके बुजुर्ग माता-पिता को नहीं बताया गया. केवल इतना बताया गया है कि दुर्घटना में उनका बेटा हेमराज घायल हो गया है. 

हेमराज को मुआवजा दिलाने सड़क पर उतरा खटीक समाज

डीडवाना खटीक समाज के द्वारा सुखदेव सिंह गोगामेडी हत्याकांड मामले में घायल हुए स्कूटी सवार हेमराज खटीक को मुआवजा दिलाने तथा दोषियों को सजा दिलाने की मांग को लेकर एक ज्ञापन राज्यपाल के नाम जिला कलेक्टर के मार्फत उपखंड अधिकारी को सौंपा गया.

खटीक समाज के लोगों के द्वारा एक रैली निकालकर नारेबाजी कर उपखंड कार्यालय पहुंचकर ज्ञापन उपखंड अधिकारी जीतू कुलहरी को सौंपा  गया. जिसमे बताया कि 5 दिसम्बर को जयपुर के श्याम नगर में करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर दिन दहाड़े हत्या कर दी.

गोगामेड़ी की हत्या के बीच कैसे आया हेमराज खटीक

बता दें कि जिस वक्त शूटरों ने गोगामेड़ी और नवीन की हत्या करने के बाद भागने के क्रम में हेमराज से स्कूटी छीन रहे थे. ऐसे में हेमराज ने उसे स्कूटी देने के बजाय उनसे मुकाबला किया. इस पर बदमाशों ने हेमराज की गर्दन पर बंदूक रखकर फायर कर दिया. जिसके बाद गोली सीधे हेमराज की गर्दन और गाल को चीरती हुई आरपार निकल गई.

जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा

जबकि दूसरी गोली उसकी जांघ में लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गया. इसके बाद बदमाश स्कूटी लेकर फरार हो गए. हेमराज को गंभीर अवस्था में जयपुर एसएमएस के ट्रोमा वार्ड में भर्ती कराया गया. जहां जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा है.

ये भी पढ़ें- Sukhdev Singh Gogamedi News: सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड मामले में पुलिस ने एक को किया गिरफ्तार

हत्यारों ने गोगामेड़ी पर गोलीबारी कर फरार होने के लिए वहां से गुजर रहे स्कूटी चालक हेमराज खटीक को जबरदस्ती रुकवाया और उससे स्कूटी मांगी,उसने इसके लिए मना कर दिया तो हत्यारों ने उस पर भी गोली चलाकर मारने का प्रयास किया. दुर्घटना में उसे दो गोलियां लगी जिससे वह गंभीर रुप से घायल हो गया.

जयपुर एसएमएस के ट्रोमा वार्ड में भर्ती

खटीक समाज द्वारा आगे मांग की गई की घटना में घायल हेमराज खटीक को 50 लाख रुपये की मुआवजा राशि तथा सरकारी नौकरी दिलवाने के लिए राज्य सरकार को निर्देशित कराए. हेमराज के ईलाज का खर्च सम्पूर्ण रूप से राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाए तथा उसकी सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की जाए.

हेमराज खटीक को मुआवजा, सहायता एवं सुरक्षा की मांग 

प्रदेश की कानून व्यवस्था को तार-तार करने वाली इस अमानवीय घटना में शामिल हत्यारों को इसके लिए प्रेरित करने वाले मुख्य सूत्रधारों की त्वरित गिरफ्तार करवाकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाए.

यदि हेमराज खटीक को मुआवजा, सहायता एवं सुरक्षा उपलब्ध नहीं करवाई गई तो डीडवाना नगर में सर्व समाज द्वारा आंदोलनात्मक कार्यवाही की जाएगी। ज्ञापन देने वालों में अनेकों  खटीक समाज के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे.

Trending news