Jaisalmer: शुरू हुआ सर्दी का सितम, घने कोहरे की आगोश में समाया लाठी
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1984801

Jaisalmer: शुरू हुआ सर्दी का सितम, घने कोहरे की आगोश में समाया लाठी

Jaisalmer Weather: प्रदेश वेस्टर्न डिस्टर्बेस का असर खत्म होने के बाद बुधवार को सर्दी तेज हो गई. कोहरा छाने से विजिबिलिटी कम हो गई, जिसके कारण सुबह सड़कों पर चलने वाले वाहन चालकों को दिन में भी गाड़ियों की लाइटें जलानी पड़ी.

Jaisalmer: शुरू हुआ सर्दी का सितम, घने कोहरे की आगोश में समाया लाठी

Jaisalmer Weather: प्रदेश वेस्टर्न डिस्टर्बेस का असर खत्म होने के बाद बुधवार को सर्दी तेज हो गई. लाठी कस्बे सहित आसपास के कई इलाकों में बुधवार सुबह घना कोहरा छाया रहा.अल सुबह से ही घने कोहरे ने पूरे शहर को अपनी आगोश में ले लिया. 

कोहरा छाने से विजिबिलिटी कम हो गई, जिसके कारण सुबह सड़कों पर चलने वाले वाहन चालकों को दिन में भी गाड़ियों की लाइटें जलानी पड़ी. वहीं घने कोहरे के कारण स्थानीय लोगों के साथ - साथ दूर- दराज से आने वाले यात्री और जैसलमेर-पोकरण की ओर जाने वाले वाहन चालकों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

वहीं, बुधवार को अल सुबह घना कोहरा छाए रहने के कारण लोग सर्दी से जहां बचाव का जतन करते हुए नजर आए. वहीं दूसरी ओर लोग अपने अपने घरों में ही दुबके रहे.दोपहर 12 बजे आसमान में कोहरे की आगोश में छिपे सूर्य देवता के दर्शन हुए, लेकिन कोहरा और हवा के कारण लोगों को राहत नहीं मिली. वही विद्यार्थियों को भी स्कूल जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है.

बुधवार को लाठी सहित भादरिया, धोलिया,लोहटा,रतन कि बस्सी, सोढाकोर,डेलासर सहित कई ग्रामीण क्षेत्रो में अधिक ठंड से ग्रामीण अलाप तापते नजर आए.साथ ही पशुओं का भी हाल बेहाल रहा.

रबी कि फसलों में होगा काफी फायदा

क्षेत्र में कुछ दिनों से ठंड का दौर चल रहा है. क्षेत्र में सर्दी बढ़ना रबी की फसल के लिए लाभकारी माना जा रहा है. विशेषकर गेहूं और चने, सरसों,ईसब गोल,जीरा और मेथी की फसल के लिए मौसम में आए बदलाव से किसान राहत महसूस कर रहे हैं. सुबह कोहरे और ओस गिरने का सिलसिला भी शुरू हो गया है. 

रात के तापमान में आई गिरावट से सर्दी ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है.कृषि जानकारों का कहना है कि इस साल मानसून कमजोर रहने से खेतों की नमी गायब थी.खरीफ की फसल नहीं हो सकी,वहीं किसानों ने ट्यूबवैल चलाकर सिंचाई की थी.लेकिन अब कोहरे व ओस के चलते किसानों को काफी फायदा होगा.

ये भी पढ़ें- Ajmer News: ब्यावर के युवक ने अकेले कमरे में उठाया ये कदम, सब देख हैरान

ये भी पढ़ें- चीफ इलेक्शन ऑफिसर प्रवीण गुप्ता की हेल्थ पर बड़ा अपडेट, डॉक्टर्स ने कहा-चिंता की कोई बात नहीं

Trending news