लंपी संक्रमित गायों के दूध का सेवन सेहत के लिए सुरक्षित या नहीं, पढ़ें विशेषज्ञों की राय
topStoriesrajasthan

लंपी संक्रमित गायों के दूध का सेवन सेहत के लिए सुरक्षित या नहीं, पढ़ें विशेषज्ञों की राय

अब संक्रमित गायों के दूध के उपयोग को लेकर अभी भी संशय बना हुआ है. विशेषज्ञों का कहना है कि सामान्य गाय का दूध उपयोग में लाया जा सकता है लेकिन संक्रमित गाय के दूध के उपयोग को लेकर सावधानी बरतें. 

लंपी संक्रमित गायों के दूध का सेवन सेहत के लिए सुरक्षित या नहीं, पढ़ें विशेषज्ञों की राय

Jaipur: राजस्थान में गायों में लंपी बीमारी का असर तेजी से बढ़ रहा है. सरकार के तमाम प्रयासों के बाद भी हजारों की संख्या में गायों की मौत हो चुकी है और लाखों गाय इस संक्रमण की जद में है. 

इस बीच सवाल ये उठ रहे है कि लंपी संक्रमण के बीच क्या गाय के दूध का सेवन सुरक्षित है या नहीं, इसी मुद्दे को लेकर हमने जाना कि आखिर क्या कहना है विशेषज्ञों का?

यह भी पढे़ं- हरीश चौधरी का बड़ा बयान, CM गहलोत को कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की चल रही अटकलें

राजस्थान में गौ माता लंपी संक्रमण की जद में है. गायों में फैले इस संक्रमण की चपेट में आयी गायों के आंकड़े बेहद चिंताजनक है. इस बीच अब संक्रमित गायों के दूध के उपयोग को लेकर अभी भी संशय बना हुआ है. विशेषज्ञों का कहना है कि सामान्य गाय का दूध उपयोग में लाया जा सकता है लेकिन संक्रमित गाय के दूध के उपयोग को लेकर सावधानी बरतें. वहीं मौजूदा समय में गाय के दूध का उपयोग कितना सुरक्षित है, इसे लेकर चिकित्सा विभाग बेखबर है. अभी तक गायों के दूध के सैंपल लेने और उनकी जांच को लेकर कोई आदेश जारी नहीं किया गया है हालांकि एक्सपर्ट ने बड़ी राहत देते हुए स्पष्ट किया है कि गाय का दूध फिलहाल पूरी तरह सुरक्षित है.

क्या कहना है वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉक्टर तपेश माथुर का 
मामले को लेकर गोपालन विभाग के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉक्टर तपेश माथुर का कहना है कि यदि गाय स्वस्थ है तो उसका दूध मौजूदा समय में भी उपयोग में लाया जा सकता है लेकिन उसे गर्म करने की जरुरत है क्योंकि गर्म करने के बाद वायरस पूरी तरह खत्म हो जाता है लेकिन यदि गाय संक्रमित है तो उसके दूध का उपयोग में लेने से बचें. दरअसल एक्सपर्ट्स का कहना है कि लंपी का असर गाय से इंसान में नहीं जा सकता है. इसलिए फिलहाल गाय के दूध के उपयोग के बाद मानव में इसी तरह की कोई बीमारी की पुष्टि अभी तक नहीं हुई है.

क्या कहना है चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री का
लंपी को लेकर प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा का कहना है कि इस वायरस की रोकथाम को लेकर प्रदेश की सरकार काम कर रही है. अभी तक गाय के दूध को पीने से कोई इंफेक्शन का मामला सामने नहीं आया है. उन्होंने कहा कि वैसे तो यह काम पशुपालन गोपालन मंत्री का है लेकिन अभी तक दूध में किसी भी तरह की दिक्कत लंपी के चलते नहीं तय हुई है. स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि फिर भी सावधानी बरतने की जरूरत है और जरूरत पड़ी तो दूध, घी सभी डेयरी प्रोडक्ट के सैंपल लिए जाएंगे.

लंपी संक्रमण का असर गाय के दूध पर नहीं पड़ रहा 
लंपी संक्रमण को लेकर राजस्थान में तमाम प्रयास जरूर किए जा रहे हैं लेकिन अभी भी गाय इस संक्रमण की जद में है. ऐसे में समय रहते गायों को सुरक्षित करने के लिए कोई मजबूत कदम सरकार को जल्द उठाने होंगे लेकिन फिलहाल आम लोगों के लिए सबसे बड़ी राहत की बात यह है कि लंपी संक्रमण का असर गाय के दूध पर नहीं पड़ रहा है और गाय का दूध पूरी तरीके से इस्तेमाल करने के लिए सुरक्षित है.

जयपुर की खबरों के लिए यहां क्लिक करें.

यह भी पढे़ं- पुरुष ही नहीं, स्त्रियों की इन जगहों पर तिल होता है बहुत लकी, हर काम में मिलती है तरक्की

यह भी पढे़ं- Chanakya Niti: भरी महफिल में महिलाएं हमेशा नोटिस करती हैं पुरुषों की ये आदतें, नहीं चलने देती किसी को पता

यह भी पढ़ें- Chanakya Niti: सांप से ज्यादा जहरीले होते हैं जिंदगी में ये 3 लोग, बिना जहर उगले ही लेते हैं डस

यह भी पढ़ें- बसे-बसाए घर को तहस-नहस कर देती हैं इस तरह की महिलाएं, जानें आपके घर में लक्ष्मी या....

यह भी पढे़ं- शादीशुदा पतियों के लिए खास कैंप, कुंआरे लड़के भी जरूर करें अटेंड, मिलेगा प्यार ही प्यार

Trending news