Rajasthan: 4 राज्यों में मतदान फिर भी क्यों नहीं आ रहे EXIT POLL! जानें क्या है इसकी वजह
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1984696

Rajasthan: 4 राज्यों में मतदान फिर भी क्यों नहीं आ रहे EXIT POLL! जानें क्या है इसकी वजह

Rajasthan Election 2023:  राजस्थान में 25 नवंबर को तो वोटिंग हो चुकी हैं.  इसी के साथ 3 राज्यों के भी मतदान 17 नवंबर को संपन्न हो चुके है. आखिरी तेलंगना का मतदान 30 नवंबर को होना है. वहीं मतदान के बाद भी एग्जिट पोल ना आने पर काफी कयास लग रहे है. 

Exit polls

Rajasthan Election 2023:  राजस्थान में 25 नवंबर को तो वोटिंग हो चुकी हैं. वहीं मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में  17 नवंबर को ही मतदान संपन्न हो चुका है लेकिन, कहां किसकी सरकार बन रही है, इसकी तस्वीर तो 3 दिसंबर को ही साफ हो पाएगी. जब परिणाम घोषित होंगे. वहीं परिणाम जारी होने से पहले लोगों को एग्जिट पोल का बेसब्री से इंतजार रहता है.पर इस बार अभी तक कोई एग्जिट पोल नहीं आया है, जिससे अंदाजा लगाया जा सके कहां उलटफेर होने की संभावना है और कहां नहीं..

ये भी पढ़ें-  Rajasthan: कांग्रेस ने रचा इतिहास तो कौन बनेगा मुख्यमंत्री? ये 5 दावेदार आ रहे सामने

वोटिंग पूरी होने पर जारी होते थे एग्जिट पोल

एग्जिट पोल उस समय जारी किए जाते हैं जब वोटिंग पूरी होती है और सीटों का रुझान  आता है. एग्जिट पोल का उद्देश्य यह बताना होता है कि कौन किसकी ओर है, और कौन कितनी सीटें जीत रहा है या हार रहा है. यह निजी न्यूज चैनल्स या सर्वे कंपनियोंके जरिए जारी किए जाते हैं. 

पहले तो ओपिनियन पोल्स आते हैं, जो वोटिंग से पहले जारी किए जाते हैं, लेकिन एग्जिट पोल्स वोटिंग के बाद का रुझान और वोटर का पैटर्न देखने के बाद जारी किए जाते हैं. चुनाव के अंत में एग्जिट पोल्स को आखिरी आंकलन के रूप में देखा जाता है.

क्या है वजह

चार राज्यों के चुनावों में अब तक एग्जिट पोल्स क्यों नहीं जारी हुए हैं, इसका कारण चुनाव आयोग के निर्धारित नियम हैं. चुनाव आयोग ने नवंबर 30 की शाम 6:30 बजे तक एग्जिट पोल पर रोक लगा रखी है. मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, और मिजोरम में मतदान पूरा हो चुका है, लेकिन तेलंगाना में वोटिंग अब तक पूरी नहीं हुई है, जो कि गुरुवार को होगी. इसके बाद 6:30 बजे से एग्जिट पोल्स जारी होना शुरू होगा.

चुनाव आयोग की तरफ से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि,  "कोई भी व्यक्ति जो इस धारा के प्रावधानों का उल्लंघन करता है, उसे दो साल तक की कैद या जुर्माना या दोनों से दंडित किया जा सकता है." इन नियमों के किसी को भी उल्लंघन करने के लिए गंभीर दंड की चेतावनी भी देने की बात कही थी. 

प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों पर लगी है रोक

यह रोक  प्रिंट और  इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों के ऊपर लागू की गई है.  EC की तरफ से जारी अधिसूचना में किसी भी अनिय तरीके से भी एग्जिट पोल निकाले या आगामी परिणामों के प्रसार पर रोक पूरी तरह से रोक लगाई है.

वहीं देखना अब दिलचस्प रहेगा की जैसे ही चुनाव आयोग की दी हुई समय सीमा सामाप्त होगी वैसे ही 30 नवंबर को शाम 6:30 बजे टीवी चैनलों और समाचार वेबसाइट्स पर एग्जिट पोल के नतीजे की बाढ़ सी आ जाएंगी, जिससे जनता की भावनाओं और राजस्थान सहित चार राज्यों के संभावित परिणामों के बारे में पहली जानकारी मिल जाएगी. 

 25 नवंबर को राजस्थान में हो चुके है मतदान

वही गौरतलब है कि 25 नवंबरको  राजस्थान में विधानसभा चुनाव संपन्न हो चुके है. जिसमें  75.45 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया. यह आंकड़ा 2018 के चुनावों से मामूली वृद्धि दर्शाता है, जहां राज्य में 74.71 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था.

ये भी पढ़ें- चीफ इलेक्शन ऑफिसर प्रवीण गुप्ता की हेल्थ पर बड़ा अपडेट, डॉक्टर्स ने कहा-चिंता की कोई बात नहीं

 

Trending news