PM मोदी ने दिया किसानों को दिवाली तोहफा, धनखड़ ने MSP बढ़ोतरी पर PM मोदी का जताया आभार
topStories0hindi1401058

PM मोदी ने दिया किसानों को दिवाली तोहफा, धनखड़ ने MSP बढ़ोतरी पर PM मोदी का जताया आभार

मोदी सरकार ने किसानों को आज फिर से दिवाली पर बड़ा तोहफा देने का ऐलान किया है. रबी सीजन की प्रमुख फसलों का बढ़ाया न्यूनतम समर्थन मूल्य और गेहूं के मूल्य में 110 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की है, जिसके बाद धनखड़ ने MSP में बढ़ोतरी पर पीएम मोदी व कृषि मंत्री तोमर का आभार जताया है.

PM मोदी ने दिया किसानों को दिवाली तोहफा, धनखड़ ने MSP बढ़ोतरी पर PM मोदी का जताया आभार

विनोद लांबा/चंडीगढ़: प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि मोदी सरकार ने रबी सीजन की प्रमुख फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाकर देशभर के करोड़ों किसानों को दिवाली के पावन पर्व का तोहफा देने का काम किया है. कल पीएम मोदी ने किसान सम्मान निधि की 12वीं किस्त जारी कर 16 हजार करोड़ रुपये सीधे किसानों के बैंक खातों में पंहुचाए थे और आज रबी सीजन की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाकर किसान हित में बड़ा निर्णय लिया है.

धनखड़ ने रबी सीजन की प्रमुख फसलों का नौ प्रतिशत तक न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र तोमर का आभार व्यक्त किया है. किसान बंधु ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि हरियाणा की प्रमुख फसल गेंहू का समर्थन मूल्य 110 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाया गया है, रबी सीजन में अब किसान का गेहूं सरकारी मंडियों में 2125 रुपये प्रति क्विंटल खरीदा जाएगा.

ये भी पढ़ेंः पराली जलाने वाले किसानों को देना होगा इतना जुर्माना, न जलाने वालों को सरकार देगी 1 हजार रुपये

उन्होंने आगे कहा कि सरसों के भाव 400 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाए गए है. दाल व तिलहन को बढ़ावा देने के लिए मसूर के भाव में 500 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ोतरी की गई है. सरकार ने जौ के भाव में 100 रुपये, चना के भाव में 105 रुपये और  सूरजमुखी के भाव में 209 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की है. धनखड़ ने कहा कि रबी सीजन की प्रमुख फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी कर मोदी सरकार ने देशभर के करोड़ों किसानों को बड़ी राहत देने का काम किया है.

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने किसान हितों को प्राथमिकता देते हुए बिजाई सीजन से पहले ही न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी घोषित करना, किसान सम्मान निधि की धनराशि सीधे किसानों के बैंक खातों में भेजना, किसानों को समय पर उन्नत बीज और उर्वरक उपलब्ध कराना, अनुदान आधारित सिंचाई योजनाओं को धरातल पर अमलीजामा पहनाना, कृषि भूमि का स्वास्थ्य जांचना, बागवानी को बढ़ावा देना जैसे अनेक ऐसे निर्णय लिए हैं, जिससे किसानों की आय में  निरंतर बढ़ोतरी हो रही है.

 

Trending news