HTET दूसरे दिन 2 लाख से ज्यादा छात्रों ने दी परीक्षा, ऑनलाइन मॉनिटरिंग तरीके से रखी गई निगरानी
topStories0hindi1470468

HTET दूसरे दिन 2 लाख से ज्यादा छात्रों ने दी परीक्षा, ऑनलाइन मॉनिटरिंग तरीके से रखी गई निगरानी

हरियाणा की अध्यापक पात्रता परीक्षा के दूसरे दिन 2 लाख 15 हजार परीक्षार्थियों ने परीक्षा में हिस्सा लिया. परीक्षा के दूसरे दिन सबसे अधिक 504 परीक्षा केंद्रों पर TGT और TRT परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी. 

HTET दूसरे दिन 2 लाख से ज्यादा छात्रों ने दी परीक्षा, ऑनलाइन मॉनिटरिंग तरीके से रखी गई निगरानी

नई दिल्ली: हरियाणा में आज दूसरे दिन अध्यापक पात्रता परीक्षा (HTET) शांतिपूर्ण और पारदर्शी तरीके संचालित हुई. दूसरे दिन आयोजित परीक्षा में दो लाख 15 हजार परीक्षार्थियों ने परीक्षा में हिस्सा लिया. प्रातकालीन पारी के लिए 504 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी. प्रात:कालीन पारी में परीक्षार्थियों ने टीजीटी अध्यापक बनने के लिए परीक्षा दी.

बोर्ड चेयरमैन डॉ. वीपी यादव और बोर्ड सैकेटरी कृष्ण कुमार ने बताया कि पहले दिन की HTET परीक्षा प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों और जिला प्रशासन के द्वारा बेहतरी तरीके से संचालित करवाई गई. पहले दिन की परीक्षाओं में एक भी यूएमसी केस नहीं बनाया गया. उन्होंने कहा कि आज दूसरे दिन की परीक्षाओं के लिए सुबह की शिफ्ट में 504 और शाम की शिफ्ट में की TRT की परीक्षा के लिए 215 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा ली गई. इसके लिए 152 उडनदस्ते परीक्षा केंद्रों की जांच कर रहे है. 

उन्होंने बताया कि परीक्षाओं की मर्यादा और सूचिता कायम रहे, इसके लिए हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड (Board of School Education Haryana) के भिवानी स्थित मुख्यालय पर हाईटेक कमांड एंड कंट्रोल मॉनिटरिंग सिस्टम लगाया गया, जिसके माध्यम से 44 एलसीडी स्क्रीनों पर प्रदेश के हर परीक्षा केंद्र और परीक्षा कक्ष की लाईव वीडियो तस्वीरें बोर्ड मुख्यालय में सीधी देखी गई. ऑनलाइन मॉनिटरिंग के दौरान कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा के नियमों का उल्लघंन करता पाया जाता है तो उस पर यूएमसी केस दर्ज किए जाने का प्रावधान है.

ये भी पढ़ें: करनाल विधानसभा अध्यक्ष से मिलने जा रहे MBBS छात्रों के साथ पुलिस ने की धक्का-मुक्की

 

बोर्ड चेयरमैन व सचिव ने कहा कि परीक्षाएं शुरू होने से पहले एचटेट परीक्षार्थियों को मेटल डिटेक्टर से उसके बाद बायोमेट्रिक हाजिरी लगाने के बाद ही परीक्षा की इजाजत दी गई है. साथ ही सीसीटीवी की नजरों में परीक्षा का आयोजन हुआ. उन्होंने कहा कि यह बेहतर प्रशासनिक प्रबंधन का ही परिणाम है कि 3 दिसंबर को हुई HTET परीक्षा में कोई भी यूएमसी दर्ज नहीं हुई. बोर्ड द्वारा इस बात का बेहतर तरीके से प्रचार किया गया था कि परीक्षा के हर कक्ष की मॉनिट्रिंग ऑनलाईन माध्यम से की जा रही है, इसी का परिणाम है कि परीक्षाओं की सूचिता भंग नहीं हुई.

HTET परीक्षा के दूसरे दिन परीक्षा में हिस्सा लेने पहुंचे परीक्षार्थी ने बताया कि उन्हे अपने गृह जिला में परीक्षा देकर काफी खुशी महसूस हुई तथा आने-जाने संबंधी कठिनाईयों से निजात मिली है. भविष्य में भी परीक्षाएं अपने गृह जिला में ही आयोजित होनी चाहिए. परीक्षार्थियों ने आंस जताई कि उनकी अच्छी तैयारी के सकारात्मक परिणाम आएंगे. गौरतलब है कि एचटेट परीक्षाओं का परिणाम 25 दिन में घोषित किया जाएगा. जिसके चलते हरियाणा प्रदेश में निकली अध्यापकों में भर्ती में उत्र्तीण एचटेट पास परीक्षार्थी भर्ती प्रक्रिया में भाग ले सकेंगे.

Trending news