Ganesh Visarjan 2023: गाजीपुर में गणेशोत्सव से दिया प्लास्टिक के कम इस्तेमाल करने और अखंड भारत का संदेश
trendingNow,recommendedStories0/india/delhi-ncr-haryana/delhiharyana1890537

Ganesh Visarjan 2023: गाजीपुर में गणेशोत्सव से दिया प्लास्टिक के कम इस्तेमाल करने और अखंड भारत का संदेश

Ghazipur Ganesh Mahotsav: गाजीपुर डेरी फार्म में श्रीगणेश महोत्सव पर्यावरण संरक्षण की थीम को लेकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है. श्रद्धालुओं को पर्यावरण के संरक्षण के साथ ही अखंड भारत का संदेश भी दिया गया.

Ganesh Visarjan 2023: गाजीपुर में गणेशोत्सव से दिया प्लास्टिक के कम इस्तेमाल करने और अखंड भारत का संदेश

Ganesh Chaturthi 2023: दिल्ली के यमुनापार के गाजीपुर डेरी फार्म में आयोजित 7वां श्रीगणेश महोत्सव बड़े ही उल्लास के साथ मनाया जा रहा है. महोत्सव में लोगों की भारी संख्या में भगवान गणेश के दर्शन करने और उनका आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए पंडाल पहुंच रहे हैं. श्रद्धालुओं ने भगवान गणेश के दर्शन के साथ ही शिव पुराण, गणेश पुराण, गणेश नृत्य और वंदना के साथ भजनों का आनंद लिया. महोत्सव में आने वाले श्रद्धालुओं को पर्यावरण के संरक्षण के साथ ही अखंड भारत का संदेश भी दिया गया और उन्हें तुलसी के पौधों को भेंट भी किया गया.

गणेश महोत्सव के आयोजक विपिन कौशिक ने बताया कि यह उनका 7वां वर्ष है जब वे इस महोत्सव को आयोजित कर रहे हैं. हर साल किसी ना किसी थीम के साथ महोत्सव आयोजित किया जाता है. इस बार पर्यावरण संरक्षण (Save Environment) के लिए जागरूकता अभियान को प्राथमिकता दी गई है. इस पांडल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल को भी अमल में लाया जा रहा है, जिसमें गणेश महोत्सव के माध्यम से प्लास्टिक के प्रति लोगों को सचेत किया जा रहा है. इससे आने वाले दिनों में समाज में लोग जागरूक होकर खुद से प्लास्टिक का उपयोग कम करने का प्रयास करेंगे. गणेश महोत्सव में प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद किया गया है और यहां बायो-डिग्रेडेबल प्लेट्स और अन्य सामग्री का उपयोग हो रहा है.

ये भी पढ़ें: ganesh Visarjan 2023: घर पर ऐसे करें भगवान गणेश मूर्ति का विसर्जन, ध्यान में रखें ये जरूरी बातें

इस महोत्सव के संरक्षक आशीष कौशिक ने बताया कि इसके माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रक्रिया का समर्थन किया जा रहा है, जिसमें प्लास्टिक के खिलाफ एक महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है. गणेश महोत्सव के दौरान प्लास्टिक का उपयोग कम हो रहा है और यह एक प्रेरणा स्रोत बन चुका है कि लोग अपने दैनिक जीवन में भी प्लास्टिक का इस्तेमाल कम करें. इससे पर्यावरण के लिए एक सकारात्मक परिणाम होगा और समाज में जागरूकता भी बढ़ेगी. साथ ही कहा कि इस वर्ष का गणेश महोत्सव एक बड़ा सफलता बन गया है और यह दिल्ली के लोगों के बीच एक महत्वपूर्ण संदेश का प्रसारण कर रहा है, जो पर्यावरण संरक्षण के मामले में हम सभी के लिए महत्वपूर्ण है. इस महोत्सव के माध्यम से हम सभी को साझा करने का मौका मिलता है और हम सभी एक साथ मिलकर पर्यावरण की रक्षा करने का काम कर रहे हैं. इस मौके पर सौरभ सक्सैना, राजेंद्र, रोहित चौधरी, हरिश शर्मा, केशव मीणा, सागर शर्मा, अर्जुन पंडित समेत कई श्रद्धलु उपस्थित रहें. 

Trending news