Ambala News: 35 दिन में उगकर तैयार होने वाली फसल से किसान ने कमाया मुनाफा, चंद सालों में बनाई अपनी पहचान
trendingNow,recommendedStories0/india/delhi-ncr-haryana/delhiharyana1728666

Ambala News: 35 दिन में उगकर तैयार होने वाली फसल से किसान ने कमाया मुनाफा, चंद सालों में बनाई अपनी पहचान

Ambala News in Hindi: अंबाला के बरनाला गांव के किसान गगनदीप सिंह ने तोरी की बेले 4 एकड़ में लगाकर चंद सालों में बड़ी पहचान बनाई है. 

Ambala News: 35 दिन में उगकर तैयार होने वाली फसल से किसान ने कमाया मुनाफा, चंद सालों में बनाई अपनी पहचान

Ambala Agriculture News: अंबाला के बरनाला गांव के गगनदीप सिंह ने आधुनिक खेती कर चंद सालों में बड़ी पहचान कृषि क्षेत्र में बना ली है. बिना सीजन के जो सब्जी मुश्किल से मिलती है वो सब्जी गगनदीप आसानी से उगाकर लोगों तक पहुंचाते हैं. इन दिनों गर्मी के समय मे गगनदीप ने तोरी की बेले 4 एकड़ में लगा रखी है. जिससे गगनदीप अच्छी खासी कमाई कर लेते हैं. 

गगनदीप बताते हैं वो भी परंपरागत खेती करते थे, लेकिन सरकार ने उनकी मदद की और उन्हें बागवानी विभाग ने ट्रेनिंग दी. जिसके बाद उसने सब्जियां उगानी शुरू की. इसी के चलते उसका रिस्क कम हो गया और जितना उसका खर्च होता है उतना उसे सरकार से अनुदान मिल जाता है. युवा किसान गगनदीप ने बताया वो इन दिनों तोरी की फसल उगा रहा हैं. उसकी फसल 35 दिन में तैयार हो जाती है और वो पूरा सीजन अच्छी खासी फसल ले लेता है और आसानी से मंडी में फसल बिक भी जाती है.

ये भी पढ़ें: Sirsa News: सिरसा के किन्नू किसानों को हो सकता है नुकसान, भरपाई के लिए जल्द भरें इस पोर्टल पर जानकारी

इतना ही नहीं गगनदीप से प्रेरणा लेने दूसरे किसान भी आते हैं और गगनदीप से सिखकर सब्जियों की खेती करना चाहते हैं. गगनदीप का चचेरा भाई भी परंपरागत खेती छोड़ सब्जियों की खेती करना चाहता है. जिसके लिए वो अपने भाई से ट्रेनिंग ले रहा है. 

बागवानी विभाग भी आधुनिक कृषि करने वाले किसानों का पूरा साथ देता है और उन्हें अनुदान उपलब्ध करवाता है. जब-जब उन्हें तकनीकी जरूरत पड़ती है तब विभाग के डॉक्टर खेतों में जाकर किसानो की मदद भी करते हैं. बागवानी विभाग के अधिकारी डॉ वीरेंद्र सिंह ने बताया किसानों को जो भी जरूरत रहती है वो विभाग द्वारा पूरी की जाती है.

 ऐसे ही सिरसा से प्राइवेट डॉक्टर होने के बावजूद प्रगतिशील किसान के रूप में विकसित हुए डॉक्टर बाप-बेटे ने अपने प्रोफेशन के साथ खेती से फायदा उठाया. उन्होंने परंपरागत खेती छोड़कर फ्रूट और वेजिटेबल की खेती से मुनाफा कमा रहे हैं.

Input: अमन कपूर 

Trending news