Pakistan PM: पाकिस्तान में बना नया गठबंधन; शहबाज शरीफ होंगे नए प्रधानमंत्री
Advertisement

Pakistan PM: पाकिस्तान में बना नया गठबंधन; शहबाज शरीफ होंगे नए प्रधानमंत्री

Pakistan PM: पाकिस्तान में सरकार बनाने के लिए नया गठबंधन बन गया है. पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ होंगे, तो वहीं आसिफ जरदारी राष्ट्रपति बनेंगे.

Pakistan PM: पाकिस्तान में बना नया गठबंधन; शहबाज शरीफ होंगे नए प्रधानमंत्री

Pakistan PM: पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) कई दिनों की गहन बातचीत के बाद आखिरकार एक नई गठबंधन सरकार बनाने के समझौते पर पहुंच गए हैं. पार्टी के सीनियर नेताओं ने ये ऐलान किया. मंगलवार देर रात एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो-जरदारी ने ऐलान किया कि पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) के 72 साल के अध्यक्ष शहबाज शरीफ एक बार प्रधानमंत्री की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं. उन्होंने बताया कि PPP के सह-अध्यक्ष आसिफ जरदारी का दोबारा देश का राष्ट्रपति बनना तय है.

पूरी हुई जरूरी संख्या
बिलावल ने मीडिया से कहा, "PPP और PML-N ने आवश्यक संख्या हासिल कर ली है. अब हम सरकार बनाने की हालत में हैं." उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) पार्टी समर्थित उम्मीदवार और सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल (SIC) केंद्र में सरकार बनाने के लिए संसद में साधारण बहुमत हासिल करने में नाकाम रहे. बिलावल ने उम्मीद जताई कि गठबंधन सरकार बनाने के लिए PML-N के साथ राजनीतिक गठबंधन की खबर से बाजार में पॉजिटिव रिएक्शन मिलेंगे, क्योंकि नकदी संकट से जूझ रहे देश को 8 फरवरी के चुनावों के बाद त्रिशंकु संसद का सामना करना पड़ा था.

क्या बोले शहबाज शरीफ
इस मौके पर बोलते हुए, शहबाज शरीफ ने जोर देकर कहा कि उनकी PML-N के पास अब अगली सरकार बनाने की स्थिति में PPP के साथ "जरूरी तादाद" है. उन्होंने बातचीत के सकारात्मक नतीजे के लिए दोनों दलों की कयादत को धन्यवाद दिया. 

ये पार्टियां हुईं राजी
PML-N ने इलेक्शन में 75 सीटें जीतीं, जबकि PPP 54 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर रही. मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान (MQM-P) भी अपनी 17 सीटों के साथ उनका समर्थन करने पर सहमत हो गया है. सरकार बनाने के लिए, किसी पार्टी को 266 सदस्यीय नेशनल असेंबली या संसद के निचले सदन में 265 सीटों में से 133 सीटें जीतनी थीं. लेकिन किसी भी पार्टी के पास इतनी सीटें नहीं थीं. नए गठबंधन पर इमरान खान की पार्टी ने हमला बोला है.

कठिनाइयों भरा है सफर
नए गठबंधन की बातचीत सोमवार को बेनतीजा रही थी. लेकिन इसके एक दिन बाद खबर आई कि दोनों के दरमियान बात बन गई है. 2022 से 2023 तक प्रधानमंत्री रहे शहबाज शरीफ ने कहा कि नई सरकार के लिए आगे का सफर आसान नहीं होगा बल्कि कई कठिनाइयों और बाधाओं से भरा होगा.

Trending news