श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब पर तलवार से हमले की कोशिश, हिन्दू सेना ने ली जिम्मेदारी
topStories0hindi1461874

श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब पर तलवार से हमले की कोशिश, हिन्दू सेना ने ली जिम्मेदारी

श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब पर तलवार से हमले की कोशिश की गई है.श्रद्धा वाकर का हत्यारोपी आफताब रोहिणी एफएसएल लैब में पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए लाया गया था.

Shraddha murder case L श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब पूनावाला (Aftab Poonawala) पर सोमवार रात को तलवार से हमले की कोशिश की गई है. हिन्दू सेना ने इसकी जिम्मेदारी ली है. दरअसल,  श्रद्धा वाकर का हत्यारोपी आफताब रोहिणी एफएसएल लैब में पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए लाया गया था, तभी हिन्दू सेना के सदस्यों ने हमला किया. हालात ऐसे बने कि पुलिस को बंदूक निकालनी पड़ी. रोहिणी एफएसएल लैब के बाहर ये हमला हुआ. 

हिन्दू सेना के गिरफ्तार सदस्यों का कहना है कि वो सुबह 8 बजे से ही आफताब पूनावाला का इंतजार कर रहे थे औऱ मौका पाते ही उसको सबक सिखाने की कोशिश की. हमलावरों का कहना है कि आफताब जेल में भी जाएगा तो वहां भी उस पर हमला करेंगे. उसे गोलियों से भून देंगे. हमले के वक्त पूनावाला को पॉलीग्राफ टेस्ट (Polygraph Test) के लिए ले जाए जा रहे आफताब को हालांकि चोट नहीं आई. हमलावरों ने जब पुलिस वैन पर तलवार चलाईं तो एक पुलिसकर्मी (Delhi Police) ने पिस्तौल निकाल ली. दिल्ली के अन्य पुलिसकर्मियों भी जमा हुए तो हमलावरों को काबू में किया गया. 

खबरों के मुताबिक, हिन्दू सेना से जुड़े हमलावर रोहिणी एफएसएल लैब (Rohini FSL Lab) के आसपास सुबह से ताक में जुटे थे कि कब मौका मिले औऱ हमला किया जाए. ऐसे में रात होते ही जैसे आफताब को लेकर जाने वाली दिल्ली पुलिस की वैन आई तो उसके आगे हिंदू सेना के कार्यकर्ताओं ने गाड़ी लगा दी. आगे कार आते ही पुलिस वैन रुक गई. इतने में ही हमलावर कार से बाहर आए और गाड़ी पर तलवारें भांजने लगे. लेकिन दिल्ली पुलिस वैन के ड्राइवर ने गाड़ी को लेकर आगे भगाया, लेकिन वहां भी हिन्दू संगठन के सदस्य मौजूद थे.

ऐसे में पुलिसकर्मियों को पोजीशन लेनी पड़ी और उन्होंने पिस्टल बाहर निकाल ली. हालांकि वैन के अंदर घुसने में हमलावर नाकाम रहे. लेकिन पुलिस की गिरफ्त में आने के बावजूद उनके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी और वो इसी मकसद से आए थे. उनका कहना है कि हिन्दू बहू बेटियों की इज्जत से खेलने वालों का वो ऐसा ही हश्र करेंगे.

गौरतलब है कि श्रद्धा वॉकर के 36 टुकड़े करने वाले आफताब पर शिकंजा कसने औऱ उसका झूठ पकड़ने के लिए पॉलीग्राफ टेस्ट कराया जा रहा है. उसका दो बार पॉलीग्राफ टेस्ट पहले ही किया जा चुका है. आफताब की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त हथियार पुलिस बरामद कर चुकी है. साथ ही श्रद्धा की अंगूठी भी उसके दोस्त से बरामद की गई है. 

 

ये भी देखे

Trending news