हिंडौन: 66 वीं जिला स्तरीय खेलखूद प्रतियेगिता का हुआ आरंभ, 52 टीमे दिखाएगी अपना दम
topStories1rajasthan1443384

हिंडौन: 66 वीं जिला स्तरीय खेलखूद प्रतियेगिता का हुआ आरंभ, 52 टीमे दिखाएगी अपना दम

करौली जिले के हिंडौन कर खेड़ा गांव स्थित स्कॉलर रोजरी पब्लिक स्कूल में 66 वीं जिला स्तरीय माध्यमिक, उच्च माध्यमिक छात्र खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ हुआ. Rajasthan CM : क्या सचिन पायलट को मिलने वाली है कमान ?

हिंडौन: 66 वीं जिला स्तरीय खेलखूद प्रतियेगिता का हुआ आरंभ, 52 टीमे दिखाएगी अपना दम

Hindaun,karauli News: करौली जिले के हिंडौन कर खेड़ा गांव स्थित स्कॉलर रोजरी पब्लिक स्कूल में 66 वीं जिला स्तरीय माध्यमिक, उच्च माध्यमिक छात्र खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारंभ हुआ.

Rajasthan CM : क्या सचिन पायलट को मिलने वाली है कमान ? खाचरियावास से मुलाकात की इनसाइड स्टोरी

प्रतियोगिता में शामिल होने आए अतिथियों ने मां सरस्वती के आगे दीप जलाकर कर प्रतियोगिता का ध्वज चढ़ाकर उद्घाटन किया. प्रधानाचार्य एवं संयोजक रूपेंद्र सिंह एवं शारीरिक शिक्षक प्रियकांत बेनीवाल ने बताया की जिले के विभिन्न विद्यालयों की टेनिस बॉल, क्रिकेट पावरलिफ्टिंग, योगा वेटलिफ्टिंग, राइफल शूटिंग, शूटिंग, बॉल कैरम,  सहित खेलों में 52 टीमों के खिलाड़ीअपना दमखम दिखाएंगे.

 इससे पूर्व भूपेंद्र सिंह, मुकेश शुक्ला, योगेश भारद्वाज, रिंकू योगी, मुकेश बैसला ,सुषमा वर्मा, लक्ष्मी उत्तम सिंह, युधिस्टर सहित अन्य मेहमानों का माला एवं साफा बंधन किया. कार्यक्रम में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। प्रतियोगिता 17 नवंबर तक चलेगी।

इस अवसर पर उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता कर रहे शारीरिक शिक्षा के उप जिला शिक्षा अधिकारी मानसिंह मीणा ने खिलाड़ी छात्रों को संबोधित करते हुए कहा की पहले लोग पढ़कर ही नौकरियां प्राप्त करते थे. अब केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार खेलों में बेहतर प्रदर्शन करने वालों को खेल कोटे से नौकरियां देने लगी है। राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में विजेता खिलाड़ियों को आर्थिक पैकेज की घोषणा भी होने लगी है.

 इसको ध्यान में रखते हुए पढ़ाई के साथ-साथ खेलों में अधिक रूचि दिखानी चाहिए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ग्राम पंचायत खेड़ा के सरपंच बृजेश मीणा कहा खिलाड़ी जब मन लगाकर खेलता है तो आगे बढ़ता है। खेलों में आगे बढ़ने के लिए एक अच्छे शारीरिक शिक्षक की जरूरत पड़ती है। वह खिलाड़ियों में कमियों को दूर करने के तकनीकी गुर सिखाता है। प्रतियोगिता पर्यवेक्षक प्रधानाचार्य रामनिवास, पर्यवेक्षक लकी शर्मा रहे.
ये रहे मौजूद
इस दौरान जीएसएस अध्यक्ष खेड़ा ओम प्रकाश, व्याख्याता शारीरिक शिक्षा मुरारीलाल लाल शाक्यवार, समाजसेवी ज्ञान सिंह, सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक रतन सिंह, रामदास चेतीवाल, शारीरिक शिक्षक महेंद्र कुमार शर्मा, राजस्थान शारीरिक शिक्षा शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र बाबा भी उपस्थित रहे.

Rajasthan Political Latest Updates : सचिन पायलट गुट को करारा जवाब, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के एक ट्वीट से सबकी बोलती बंद
Reporter: Ashish Chaturvedi

Trending news