राजस्थान चुनाव- नाम वापसी प्रक्रिया के बाद चुनावी तस्वीर हुई साफ, अब कुल 11 प्रत्याशी रहे चुनावी मैदान में
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1952498

राजस्थान चुनाव- नाम वापसी प्रक्रिया के बाद चुनावी तस्वीर हुई साफ, अब कुल 11 प्रत्याशी रहे चुनावी मैदान में

Rajasthan Election news:  राजस्थान के अजमेर जिले के ब्यावर विधानसभा चुनावों के तहत चल रही नामांकन प्रक्रिया गुरुवार को नाम वापसी तथा चुनाव चिन्ह आवंटन के साथ पूरी हुई. कुल 12 प्रत्याशियों में से 01 प्रत्याशि की और से नाम वापस लेने के बाद कुल 11 प्रत्याशी चुनावी मैदान में रहे है.

राजस्थान चुनाव- नाम वापसी प्रक्रिया के बाद चुनावी तस्वीर हुई साफ, अब कुल 11 प्रत्याशी रहे चुनावी मैदान में

Rajasthan Election: राजस्थान के अजमेर जिले के ब्यावर विधानसभा चुनावों के तहत चल रही नामांकन प्रक्रिया गुरुवार को नाम वापसी तथा चुनाव चिन्ह आवंटन के साथ पूरी हुई. गुरुवार दोपहर 3 बजे तक नामांकन पत्र वापस लेने की प्रक्रिया संपन्न होने के बाद ब्यावर विधानसभा की चुनावी तस्वीर साफ हो गई. कुल 12 प्रत्याशियों में से 01 प्रत्याशि की और से नाम वापस लेने के बाद कुल 11 प्रत्याशी चुनावी मैदान में रहे है. गुरूवार को नाम वापसी प्रक्रिया के दौरान निर्दलीय प्रत्याशी देवराज जैन ने अपना नाम वापस लिया. 

प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह आवंटित

जिसके बाद कुल 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में रहे. नाम वापसी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद रिटर्निग अधिकारी मृदूलसिंह ने चुनाव मैदान में शेष रहे प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह आवंटित किए. जिसमें भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी शंकरसिंह रावत को कमल का फूल, इंडियन नेशनल कांग्रेस के प्रत्याशी पारस जैन पंच को हाथ का पंजा, बहुजन समाज पार्टी की प्रत्याशी शिवानी मेघवाल को हाथी, राष्ट्रीय व्यापारी पार्टी के सत्यनारायण पालडिया को हरा मटर, इंडियन पीपपुल्स ग्रीन पार्टी के रसूल काठात को हांडी, निर्दलीय इंदरसिंह बागावास को कैची, महेन्द्रसिंह रावत को टार्च, मनोज चौहान को लौहे का भाला, पुरूषोतम भाटी को साइकिल पंप, राजेन्द्र प्रसाद को क्रिकेट का बल्ला तथा सुरज कुमार सुयल को गुब्बारा चुनाव चिन्ह आवंटित किए गए है. 

यह भी पढ़े- आज पीएम मोदी आ रहे उदयपुर, मेवाड़ को साधने पर रहेगा जोर, समझें 28 सीटों का गणित

चुनाव चिन्ह आंवटन के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी मृदूलसिंह, विधानसभा पर्यवेक्षक मौसमी चट्टानन सहित चुनाव मैदान में डटे सभी प्रत्याशी उपस्थित रहे. मालूम हो कि विगत विधानसभा चुनाव 2018 में कुल 12 प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे. हालांकि इस बार भी 12 प्रत्याशियों ने ही नामांकन पत्र दाखिल किए थे लेकिन एक प्रत्याशी द्वारा अपना नामांकन पत्र वापस लेने के चलते इस वर्ष कुल 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में है. 

यह भी पढ़े- सुधांशु त्रिवेदी ने कांग्रेस की गारंटियों पर कसा तंज,कहा-हार की वजह से याद आ रही गारंटी

गुरुवार को साफ हुई चुनावी तस्वीर में भाजपा तथा कांग्रेस दोनों ही राष्ट्रीय पार्टीयों के प्रत्याशियों के सामने पार्टी के बागी ताल ठौके हुए है. भाजपा के सामने इसी पार्टी के दो दिग्गज कार्यकत्र्ता इंदरसिंह बागावास तथा महेन्द्रसिंह रावत चुनाव मैदान में डटे हुए है जो भाजपा प्रत्याशी शंकरसिंह रावत की जीत का समनीकरण बिगाड सकते है. वहीं कांग्रेस प्रत्याशी के सामने विधानसभा चुनाव 2013 का प्रत्याशी मनोज चौहान बागी के रूप में चुनाव लड रहे है जो कांग्रेस के सामने बडी चुनौती खडी कर रखी है.

Trending news