Ajmer : एकेएच में व्याप्त अव्यवस्थाओं की शिकायत पर कलेक्टर ने किया निरीक्षण
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1997707

Ajmer : एकेएच में व्याप्त अव्यवस्थाओं की शिकायत पर कलेक्टर ने किया निरीक्षण

 Beawar News: ब्यावर के राजकीय अमृतकौर अस्पताल में कलेक्टर तोमर ने पीड़ित हर्षा कांजानी की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए प्रकरण पर उचित जांच कर त्वरित कार्यवाही करने के लिए उपस्थित पीएमओं को निर्देश दिए.

एकेएच अस्पाताल में निरीक्षण.

 Beawar News: ब्यावर के राजकीय अमृतकौर अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्थाएं थम ही नहीं रही. आए दिन किसी ना किसी तरह से व्यवस्थाओं तथा अस्पताल में चौथ वसूली की शिकायत पीड़ित रोगी के परिजनों की ओर से अस्पताल प्रबंधन को दी जाती है.

राजकीय अमृतकौर अस्पताल में वसूली 

लेकिन उस पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं होने पर अस्पताल में अव्यवस्थाएं बढ़ती जा रही है साथ ही कर्मचारियों के भी हौंसले बुलंद होते जा रहे है. जिसके चलते वह अस्पताल के विभिन्न वार्डों में भर्ती रोगियों के परिजनों से किसी ना किसी बहाने से चौथ वसूली कर उन्हें परेशान करते है.

ऐसा ही एक मामला सोमवार को सामने आया जिसमे गणेश पुरा निवासी हर्षा कांजानी ने शहर थाना पुलिस, अस्पताल पीएमाओ तथा जिला कलेक्टर को एक लिखित शिकायत देकर बताया कि उसकी बेटी के पेट में गांठ की शिकायत होने पर उन्होंने एकेएच के सर्जन डॉक्टर पुखराज चौधरी से परशर्मश लिया.

मरीज को परेशान का मामला

जिसके बाद डॉक्टर चौधरी ने 27 नवबंर को हर्षा के बेटी का गांठ निकालने के लिए आपरेशन की तारीख दी. जिसके बाद हर्षा का डॉक्टर चौधरी ने वर्षा की बेटी का सफल आपरेशन कर उसके पेट से गांठ निकाल दी. हर्षा ने बताया कि उसके बाद उसके पोस्ट सर्जिक वार्ड में भर्ती कर उपचार किया गया. हर्षा ने अस्पताल प्रबधंन को दी शिकायत में सर्जिक स्टाफ पर आरोप लगया कि उन्होंने उपचार सही तरीके करने के लिए रूपयो की मांग की जो कि पीड़ित परिवार की ओर से पूरी की गई.

हर्षा ने शिकायत में बताया कि इतना ही नहीं जब उसकी बेटी को 29 नवंबर को डिस्चार्ज किया गया तब भी स्टाफ द्वारा तथा ट्राली मेन द्वारा भी पैसों की मांग की गई जिसको मजबूरन पूरा किया जाकर होने वाली परेशानी से निजात पाई. हर्षा ने एकेएच में हुए इस प्रकरण की शिकायत जिला कलेक्टर रोहिताश सिंह तोमर को भी दी, जिस पर तोमर ने समस्या को गंभीर मानते हुए त्वरित कार्यवाही करते हुए राजकीय अमृतकौर अस्पताल पहुंचे.

ये भी पढ़ें- Gogamedi Murder: सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड का मामला, सर्व समाज के लोगों ने सीकर में जताया विरोध

इस दौरान कलेक्टर तोमर ने अस्पताल के विभिन्न चिकित्सक कक्षों का नीरीक्षण किया साथ ही वार्डों का नीरीक्षण किया. नीरीक्षण के दौरान सीएमएचओ सूरज प्रसाद मीणा, पीएमाओ डॉक्टर सुरेंद्र सिंह चौहान, डिप्टी कंट्रोल मुकेश अग्रवाल, वरिष्ट चिकित्सक संजय शर्मा, नर्सिंग अधीक्षक हनुमान चौहान आदि मौजूद रहे. इस दौरान कलेक्टर तोमर ने अस्पताल में मिली विभिन्न अव्यवस्थाओं को त्वरित कार्यवाही करते हुए पीएमाओ को सुधार के निर्देश दिए है. साथ ही कलेक्टर तोमर ने पीड़ित हर्षा कांजानी की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए प्रकरण पर उचित जांच कर त्वरित कार्यवाही करने के लिए उपस्थित पीएमओं को निर्देश दिए.

Trending news