Mahakal And Mohan Yadav: उज्जैन के हाथों में MP की सत्ता, 24 घंटे में मोहन यादव को मिला बाबा महाकाल का अशीर्वाद
trendingNow,recommendedStories1/india/madhya-pradesh-chhattisgarh/madhyapradesh2005703

Mahakal And Mohan Yadav: उज्जैन के हाथों में MP की सत्ता, 24 घंटे में मोहन यादव को मिला बाबा महाकाल का अशीर्वाद

MP New CM Mahakal Connection: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में मोहन यादव का नाम तय हो गया है. यानी अब प्रदेश को बाबा महाकाल का आशिर्वाद मिलने जा रहा है.

Mahakal And Mohan Yadav: उज्जैन के हाथों में MP की सत्ता, 24 घंटे में मोहन यादव को मिला बाबा महाकाल का अशीर्वाद

Mohan Yadav Mahakal Connection: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में मोहन यादव का नाम फिक्स हो गया है. यादव उज्जैन (Ujjain News) जिले के पहले विधायक हैं जो मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं. यानी अब कहा जा रहा है की प्रदेश को बाबा महाकाल का आशिर्वाद मिलने जा रहा है. बाबा महाकाल की नगरी से आने वाले मोहन यादव अब प्रदेश की सत्ता संभालने जा रहे हैं. उन्होंने कल ही बाबा के दर्शन किए थे. ऐसे में अब धार्मिक लोग भी मोहन याादव के नाम को लेकर काफी आशा में हैं.

मिला महाकाल का आशिर्वाद
बता दें मोहन यादव को बाबा महाकाल का आशिर्वाद मिला है. भोपाल आने से पहले उन्होंने रविवार को बाबा के दरबार में माथा टेका था. इसके बाद वो विधायक दल की बैठक में हिस्सा लेने के लिए भोपाल आए थे. ऐसे में अब कहा जा रहा है की भोलेनाथ ने मोहन यादव को 24 घंटे के भीतर आपना आशिर्वाद दिया है.

मोहन यादव का सियासी सफर
डॉ मोहन यादव का राजनीतिक सफर छात्र राजनीति शुरू हुआ था. वे माधव विज्ञान महाविद्यालय पढ़ाई के दौरान ही राजनीति करने लगे थे. यहां उन्होंने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद उज्जैन के नगर मंत्री का पद संभाला. इसके बाद कॉलेज में पढ़ाई के दौरान छात्रसंघ में कई पदों पर रहे.वे भाजपा की राज्य कार्यकारिणी के सदस्य होने के साथ ही सिंहस्थ मध्य प्रदेश की केंद्रीय समिति के सदस्य भी रहे हैं. बाद में उन्हें मध्य प्रदेश विकास प्राधिकरण के प्रमुख पदों के साथ पश्चिम रेलवे बोर्ड में सलाहकार समिति में भी रखा गया था.

चुनावी सफर
साल 2023 विधानसभा चुनाव में मोहन यादव ने कांग्रेस के चेतन प्रेमनारायण यादव को 12941 वोटों से हराया है. इससे पहले वो 2013 में पहली बार उज्जैन दक्षिण सीट से विधानसभा पहुंचे थे. 2018 में उन्होंने एक बार फिर विधानसभा में एंट्री ली और मंत्री भी बन गए. उन्हें शिवराज सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री का पद दिया गया. अब 2023 की जीत के बाद वो मध्य प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री होंगे.

Trending news