Haryana Flood Alert: हरियाणा के इन जिलों में बाढ़ से मच सकती है भारी तबाही, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट
trendingNow,recommendedStories0/india/delhi-ncr-haryana/delhiharyana1773672

Haryana Flood Alert: हरियाणा के इन जिलों में बाढ़ से मच सकती है भारी तबाही, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

Haryana Flood Alert: हरियाणा में बारिश से बिगड़ती स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री ने सभी अधिकारियों के साथ बैठक की है. सीएम ने सभी डीसी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हालात का जायजा लिया है. प्रदेश में अभी स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन एतिहात के तौर पर अलर्ट जारी कर दिया गया है.

Haryana Flood Alert: हरियाणा के इन जिलों में बाढ़ से मच सकती है भारी तबाही, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

Haryana Flood Alert: हरियाणा में पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश से सभी मुख्य नदियां उफान पर हैं, जिसकी वजह से कई जिलों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. बारिश से बिगड़ते हालात से निपटने की तैयारियों के बारे में बताते हुए मुख्य सचिव संजीव कौशल ने कहा कि हरियाणा में पूरी स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री ने सभी अधिकारियों के साथ बैठक की है. सीएम ने सभी डीसी के साथ भी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हालात का जायजा लिया है. प्रदेश में अभी स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन एतिहात के तौर पर अलर्ट जारी कर दिया गया है.

अंबाला में स्थिति चिंताजनक
मुख्य सचिव संजीव कौशल ने बताया कि गुरुग्राम, पानीपत में स्थिति नियंत्रण में हैं. वहीं कुरुक्षेत्र में भी अब स्थिति नियंत्रण में आ चुकी है, अंबाला में स्थिति थोड़ी चिंताजनक है जिस पर लगातार प्रशासन अपनी नजर बनाए हुए है.

ये भी पढ़ें- Delhi Flood Alert: बाढ़ के खतरे के बीच केजरीवाल ने की सभी राजनीतिक दलों के प्रयासों को सराहा, कहा- हालात से मिलकर निपटेंगे

करनाल में टूटा गांवों से संपर्क
यमुनानगर के हथनी कुंड बैराज से तीन लाख क्यूसिक पानी यमुना नदी में आने से करनाल के इन्द्री क्षेत्र से गुजर रही यमुना का जलस्तर बढ़ गया है. यमुना के बढ़ते जलस्तर की वजह से क्षेत्र के दर्जनों गांवों का शहर से संपर्क टूट गया है.इतना पानी छोड़े जाने से यहां के दर्जनों गांवों की सड़कों, गलियों व घरों में पानी घुस गया है. गलियों में कई कई फुट पानी चल रहा है, जिसमें जहरीले सांप व कीड़े इत्यादि चल रहे है. 

नदियों का बढ़ता जलस्तर से बढ़ी चिंता
हरियाणा की यमुना, घग्गर, मारकंडा,  टांगरी और कौशल्या नदी का जलस्तर खतरे के निशान के करीब पहुंच गया है, जिसकी वजह से पंचकूला, अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, पानीपत, फतेहाबाद, यमुनानगर , सोनीपत सहित कई जिलों में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. अंबाला जिले के लगभग 20-25 गांव प्रभावित हुए हैं, जहां राहत एवं बचाव कार्य जारी है. राहत और बचाव कार्य के लिए SDRF की मदद ली जा रही है. सीएम ने आदेश दिए हैं कि जो प्रभावित क्षेत्र है उनमें स्वच्छ पेयजल और खाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए.

लोगों से की ये अपील
संजीव कौशल ने कहा कि मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए अलर्ट के अनुसार, आज भी हरियाणा में भारी बारिश के आसार हैं. इसलिए लोग बेवजह घर से बाहर निकलने से बचें. साथ ही कहा कि प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में है और प्रशासन सजग है.

हर जिले का प्रशासन मुस्तैद- उपमुख्यमंत्री
उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सरकार की तैयारियों की जानकारी देते हुए बताया कि वैसे तो पूरे हरियाणा में स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन उत्तर हरियाणा में कई इलाकों में स्थिति नियंत्रण से बाहर हुई है. जैसे अंबाला में टांगरी नदी उफान पर है और टांगरी नदी के पानी ने कई गांव को अपनी चपेट में ले लिया है. वहां पर एनडीआरएफ की टीम में भेज दी गई हैं. जो स्थिति को काबू करने की कोशिश कर रही है. इसके अलावा पंचकूला में भी घग्गर नदी भी खतरे के निशान पर बह रही है, पंचकूला में भी प्रशासन की ओर से मुस्तैदी बरती जा रही है. जो लोग निचले इलाके में है उन्हें वहां से हटाया जा रहा है. उत्तर हरियाणा के अन्य जिलों में भी प्रशासन को जरूरी दिशा निर्देश दे दिए गए हैं.

Trending news