बिहार में पुल हादसे पर बोले चिराग, सीएम की नाक के नीचे हो रहा करप्शन
trendingNow,recommendedStories0/india/bihar-jharkhand/bihar1727137

बिहार में पुल हादसे पर बोले चिराग, सीएम की नाक के नीचे हो रहा करप्शन

लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान पटना पहुंचे हैं. वहां उन्होंने सुल्तानगंज के अगुवानी पुल हादसे को लेकर नीतीश कुमार पर तीखा हमला बोला है.

(फाइल फोटो)

Chirag Paswan: लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान पटना पहुंचे हैं. वहां उन्होंने सुल्तानगंज के अगुवानी पुल हादसे को लेकर नीतीश कुमार पर तीखा हमला बोला है. चिराग पासवान ने यहां कहा कि जो मुख्यमंत्री करप्शन पर जीरो टोलरेंस की बात करते हैं, बात-बात पर ये जताते नहीं थकते कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी पॉलिसी जीरो टॉलरेंस की है. उस मुख्यमंत्री के सामने सुल्तानगंज का पुल हादसा भ्रष्टाचार का जीता जागता उदाहरण है. 

उन्होंने आगे कहा कि कैसे उनके नाक के नीचे बिहार के बड़े-बड़े प्रोजेक्ट भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा रहे हैं. मुख्यमंत्री के पास प्रदेश को देखने समझने की फुर्सत नहीं है लेकन भारत भ्रमण करने के लिए समय है. ऐसे में वह अगर थोड़ा समय निकालकर प्रदेश के भ्रमण पर निकल जाए तो इनको पता चलेगा की ये तो मात्र एक उदहारण है और ये उदाहरण भी इसलिए बना क्यूंकी एक बड़ा पुल था. 

ये भी पढ़ें- पुल हादसा हुआ भागलपुर में, खौफ में क्यों आ गए हैं सिमरिया के लोग, जानें वजह

उन्होंने कहा कि अधिकांश भ्रष्टाचार से लिप्त प्रदेश कार्य हो रहे हैं. वह मुख्यमंत्री की जानकारी में वैसे भी नहीं होता है, हर बात में बोलते है उनको मालूम ही नहीं है. चिराग पासवान ने कहा मैं दोबारा दोहरा रहा हूं सात निश्चय योजना पूरी की पूरी भ्रष्टाचार की देन चढ़ गई है. आज की तारीख में बिहार का शायद ही कोई ऐसा काम होगा जहां पर बिना घूस दिए कोई काम होता हो. 

वहीं विपक्ष की बैठक स्थगित होने पर चिराग पासवान ने कहा ये तो सीएम ही बताएंगे, विपक्ष को एकजुट करने का जो असंभव प्रयास सीएम कर रहे है वहीं इसपर बेहतर बता पाएंगे. हो सकता है कि कुछ नेताओं ने आने से मना कर दिया हो, मैं बार-बार कह रहा हूं कि विपक्ष अगर एकजुट होगा भी तो इनके सामने क्यों होगा, क्या है इनके पास. 

चिराग पासवान ने कहा अकेले सारे निर्णय लेना और फैसले करना और इन के तमाम फैसले धराशायी हुए हैं. आखिर क्यों जातिगत जनगणना पर रोक लग गई, हम लोग कहते रह गए बुला लीजिए सर्वदलीय बैठक. क्यों शराबबंदी कानून विफल हो गया हम लोग कहते रह गए समीक्षा कीजिए, क्यों बिहार में अपराध बढ़ रहा है गृह मंत्री और मुख्यमंत्री यही हैं, निर्णय भी यही लेंगे सब काम यही करेंगे तो जवाबदेही इनकी नहीं तो और किसकी बनती है. 
(रिपोर्ट- निषेद कुमार)

Trending news