धीरेंद्र शास्त्री से शादी की इच्छा लेकर महोबा पहुंची शिवरंजनी, बाबा ने रिजेक्ट किया तो क्या करेगी?
trendingNow,recommendedStories0/india/bihar-jharkhand/bihar1737297

धीरेंद्र शास्त्री से शादी की इच्छा लेकर महोबा पहुंची शिवरंजनी, बाबा ने रिजेक्ट किया तो क्या करेगी?

छात्रा का नाम शिवरंजनी है और वह मध्य प्रदेश के सिवनी की रहने वाली है. वह खुद को जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के परिवार का सदस्य बताती है. 

धीरेंद्र शास्त्री से शादी करना चाहती है MBBS स्टूडेंट शिवरंजनी!

Shivranjani wants to marry Dhirendra Shastri: बागेश्वर धाम के महाराज यानी पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री से शादी की इच्छा रखने वाली लड़की अब महोबा पहुंच चुकी है. अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए उसने गंगोत्री से बागेश्वर धाम के लिए कलश यात्रा शुरू की थी और अब वह अपनी मंजिल के काफी करीब है. यहां से बागेश्वर बाबा का दरबार महज 78 किमी की दूरी पर है. उसके प्रण के मुताबिक वह 16 जून को बागेश्वर धाम पहुंच जाएगी. वहां वह बाबा के दर्शन करने के साथ-साथ उनसे शादी करने का प्रस्ताव रखेगी.

 

छात्रा का नाम शिवरंजनी है और वह मध्य प्रदेश के सिवनी की रहने वाली है. वह खुद को जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के परिवार का सदस्य बताती है. वो भजन गायिका भी है. वो महज 4 साल की उम्र से भजन भी गा रही हैं. उसने खैरागढ़ से 8 साल तक संगीत की शिक्षा हासिल की है. उसकी मंत्रमुग्ध करने वाली आवाज सुनकर भक्त भावविभोर हो उठते हैं. इसके अलावा वो यूट्यूबर भी है. बागेश्वर धाम के महाराज धीरेंद्र शास्त्री को वह प्राणनाथ कहती है. 

ये भी पढ़ें- अब बांस से बनेगी प्लास्टिक, पर्यावरण को नहीं होगा नुकसान, जानें कैसे

महोबा में जब पत्रकारों ने उससे पूछा कि यदि बाबा ने शादी के प्रस्ताव को रिजेक्ट कर दिया तो वह क्या करेगी? इस सवाल पर उसने मुस्कुराते हुए जवाब दिया कि मैंने तो कभी नहीं कहा कि मैं उनके पास शादी का प्रस्ताव लेकर जा रही हूं. उसने कहा कि वो मेरे प्राणनाथ हैं और हमेशा रहेंगे. मैं उन्हें अपना भगवान मानती हूं, इसलिए प्राणनाथ कहती हूं. उसने बताया कि बाबा आगामी 16, 17 और 18 जून को दिव्य दरबार लगाने वाले हैं, इसलिए वह उनके दर्शन करने जा रही है. 

ये भी पढ़ें- मां ने 4 हाथ-पैर वाले अनोखे बच्चे को दिया जन्म, 20 मिनट में ही नवजात ने तोड़ा दम

बता दें कि शिवरंजनी उत्तराखंड के गंगोत्री से मध्य प्रदेश के छतरपुर में स्थित बागेश्वर धाम तक कलश यात्रा निकाल रही है. मीडिया पर दिए गए इंटरव्यू में शिवरंजनी का कहना है कि वह अपनी कामना को लेकर बागेश्वर धाम की यात्रा कर रही है, और कह रही है कि अपनी इच्छा बागेश्वर धाम सरकार से ही मिलने पर बताएंगी. डॉक्टरी की पढ़ाई से धर्म के प्रचार की तरफ आने के सवाल पर शिवरंजनी ने कहा कि हमारे परिवार में बचपन से ही आध्यात्मिक माहौल रहा है. उन्होंने कहा कि हमारा जो परिवार है वो जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद जी महाराज के परिवार से संबंधित है. मेरे पिता जी पूज्य गुरुदेव जी के भतीजे लगते हैं. 

Trending news