Chanakya Niti: पत्नी के होते हुए भी दूसरी महिला का दीवाना क्यों होता है मर्द, ये हैं 5 कारण
topStories0hindi1450441

Chanakya Niti: पत्नी के होते हुए भी दूसरी महिला का दीवाना क्यों होता है मर्द, ये हैं 5 कारण

आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र के सिद्धांत अगर किसी ने अपनी जिंदगी में आत्मसात कर लिए तो वह बेहतर जिंदगी जी सकता है. चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र में धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष, परिवार, रिश्ते, मर्यादा, समाज, संबंध, देश और दुनिया के साथ ही कई और चीजों को लेकर सिद्धांत दिए हैं.

Chanakya Niti: पत्नी के होते हुए भी दूसरी महिला का दीवाना क्यों होता है मर्द, ये हैं 5 कारण

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र के सिद्धांत अगर किसी ने अपनी जिंदगी में आत्मसात कर लिए तो वह बेहतर जिंदगी जी सकता है. चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र में धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष, परिवार, रिश्ते, मर्यादा, समाज, संबंध, देश और दुनिया के साथ ही कई और चीजों को लेकर सिद्धांत दिए हैं. चाणक्य के ये नीति शास्त्र के सिद्धांत सबसे ज्यादा प्रासंगिक हैं. ऐसे में चाणक्य ने पति-पत्नी के संबंध और रिश्तों पर भी अपने सिद्धांत दिए हैं जिसे जानना बेहद जरूरी है. वैसे ये कहा जाता है कि स्त्री हो या पुरुष किसी अन्य के लिए आकर्षण सामान्य सी बात है. यह गलत भी नहीं है लेकिन यह गलत तब होता है जब यह आकर्षण केवल किसी की तारीफ करने या बात करने के दायरे से आगे बढ़कर कुछ और नजर आने लगे. 

सामान्य सिद्धांत कहता है कि आकर्षण मनुष्य के अंदर का स्वभाव है. लेकिन इसकी वजह से आपकी शादीशुदा जिंदगी में तनाव पैदा हो तो फिर ये केवल आकर्षण नहीं हैं. ऐसे में शादीशुदा लोगों का एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर कई कारणों से होता है और अगर इसे समय रहते ठीक कर लिया जाए तो यह आपके लिए बेहतर होगा. ऐसे में हम पांच ऐसी वजहों के बारे में बताएंगे जिसके कारण शादीशुदा जिंदगी तबाह हो जाती है और मर्द अपनी पत्नी को छोड़ किसी और का दीवाना हो जाता है. 

कम उम्र में शादी 
कम उम्र में शादी कई बार ऐसी परेशानी लेकर आता है जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. एक तो आप समझदारी के लेवल पर बहुत नीचे के पायदान पर होते हैं. दूसरे आपके पास पहले से ही करियर और अन्य चीजों को लेकर परेशानी बनी रहती है ऐसे में जब करियर थोड़ ठीक होता है तो लोगों को लगता है कि उन्होंने पीछे कई चीजें ऐसी छोड़ दी जो उन्हें हासिल करना था और फिर लोग एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर की ओर कदम बढ़ा देते हैं. 

शारीरिक संतुष्टि
शारीरिक संतुष्टि नहीं मिलने की वजह से ही ज्यादातर मामलों में पति-पत्नी के बीच आकर्षण की कमी साफ देखने को मिलती है. ऐसे में ये प्रमुख कारण होता है कि लोग एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर की तरफ बढ़ जाते हैं. शारीरिक संतुष्टि का मतलब केवल बिस्तर पर एक दूसरे को संतुष्ट करना नहीं बल्कि मन और वचन से भी एक दूसरे के प्रति उदार रहना है. 

संबंधों में भरोसे की कमी 
कुछ लोगों में देखा गया है कि वह एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर को अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि मानते हैं ऐसे में जीवनसाथी का एक दूसरे के प्रति समर्पण और सेक्स लाइफ का कामयाब होना बहुत जरूरी है नहीं तो आपके संबंधों में जल्द ही गांठ पड़ने लगेगी. कई बार तो कोई अपने साथी के साथ संबंधों से संतुष्ट होने के बाद भी दूसरे संबंध बनाने के लिए आतुर रहते हैं ये आपके जीवन को बर्बाद करने के लिए काफी है. 

मोहभंग होना
आप अपने जीवनसाथी को सबसे सुंदर माने उसकी केयर करें नहीं तो दूसरों की खूबसूरती और आपका जीवनसाथी आपको बदसूरत नजर आने लगे तो यह आपके जीवन में और शादीशुदा जिंदगी में परेशानियों के अलावा कुछ और नहीं देगा. आपको जब अपने जीवनसाथी के सारे गुण अवगुण प्रतीत होने लगे तो समझ लेना चाहिए आपके परिवार में बिखराव की स्थिति बन रही है.

बच्चे का होना 
कोई भी स्त्री-पुरुष जैसे ही मां-बाप बनते हैं उनकी प्राथमिकताएं बदल जाती हैं. उनकी जिंदगी में बड़ा बदलाव आ जाता है. ऐसी स्थिति में पुरुषों का अपनी स्त्री से मोहभंग होने लगता है. ऐसा हेने की वजह महिलाओं का अपने बच्चों के साथ ज्यादा वक्त गुजारना है. 

ये भी पढ़ें- Chanakya Niti: महिलाओं की इन आदतों के आगे मजबूर हो जाते हैं मर्द, ये होती है स्त्रियों की विशेषता

Trending news