Jharkhand News: पोस्टमार्टम के बाद यूपी लाया गया गैंगस्टर अमन सिंह का शव, जेल की तलाशी में दो पिस्टल बरामद
trendingNow,recommendedStories0/india/bihar-jharkhand/bihar1994607

Jharkhand News: पोस्टमार्टम के बाद यूपी लाया गया गैंगस्टर अमन सिंह का शव, जेल की तलाशी में दो पिस्टल बरामद

Jharkhand News:  धनबाद जेल में बंद डिप्टी मेयर नीरज सिंह हत्या आरोपी अमन सिंह की रविवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद सोमवार को पोस्टमार्टम खत्म होने के बाद परिजन शव को उत्तर प्रदेश अपने घर ले गए. वहीं अमन सिंह के भाई ने जेल में हत्या की सीबीआई जांच की मांग की है.

Jharkhand News: पोस्टमार्टम के बाद यूपी लाया गया गैंगस्टर अमन सिंह का शव, जेल की तलाशी में दो पिस्टल बरामद

धनबाद:Jharkhand News:  धनबाद जेल में बंद डिप्टी मेयर नीरज सिंह हत्या आरोपी अमन सिंह की रविवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद सोमवार को पोस्टमार्टम खत्म होने के बाद परिजन शव को उत्तर प्रदेश अपने घर ले गए. वहीं अमन सिंह के भाई ने जेल में हत्या की सीबीआई जांच की मांग की है. घटना के बाद जिला प्रशासन ने जेल की सीसीटीवी फुटेज की जांच के दौरान उक्त घटना में प्रयुक्त हथियार को ट्रेस करते हुए जेल परिसर से दो पिस्टल बरामद किए गए हैं. इस मामले में कुल 4 प्राथमिकी दर्ज की गई है. साथ ही हॉस्पिटल वार्ड में घटनास्थल की बेरीकेडिंग करते हुए उसे सेनेटाइज कर दिया गया है.

वहीं जेलर, मंडल कारा, धनबाद मो. मुस्तकीम अंसारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित एवं स्थानांतरित करते हुए विभागीय कार्रवाई चलाने का निर्देश दिया गया है. मंडल कारा, चतरा के जेलर को तत्काल प्रभाव से मंडल कारा, धनबाद के जेलर के रूप में पदस्थापित किया गया है. जेल प्रशासन द्वारा अलग-अलग टीम बनाकर सभी वार्डों, सेल एवं पूरे परिसर की सघन तलाशी ली गयी. तलाशी की दौरान छह मोबाइल और 18 हजार रुपए बरामद हुए।

वही अमन के भाई ने बताया कि अमन सिंह उत्तर प्रदेश के मऊ जिला में रहने के दौरान एक बार आपसी विवाद में दो पक्ष के गांव में मारपीट गोलीबारी के बाद अमन सिंह जेल गया. फिर जेल में अपराधियों से संपर्क होने के बाद अमन सिंह बड़ा अपराधी बन गया. वहीं धनबाद में पूर्व नीरज सिंह हत्या में नाम आने के बाद 2017 से ही धनबाद जेल में बंद था और जेल के अंदर हथियार ले जाकर गोली मार देना कहीं ना कहीं जेल की सुरक्षा पर कई सवाल खड़े करता है. वहीं इस मामले की उच्च स्तरीय जांच हो ताकि जो भी लोग इसमें शामिल है कर उसे कड़ी से कड़ी सजा मिल सके.

 इनपुट- नितेश मिश्रा

ये भी पढ़ें- Assembly Election Results 2023: देश की आधी से अधिक आबादी पर बीजेपी का राज, जानें कांग्रेस कितने पर सिमटी

Trending news