PoK वापस लेने पर फ़ौज का बड़ा बयान; कहा- भारत सरकार के आदेश का इंतेज़ार
topStories0hindi1453674

PoK वापस लेने पर फ़ौज का बड़ा बयान; कहा- भारत सरकार के आदेश का इंतेज़ार

Lt General Upendra Dwivedi: नॉर्थन फौज के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने कहा है कि हिन्दुस्तानी फ़ौज पाकिस्तान के क़ब्ज़े वाले कश्मीर को वापस लेने जैसे आदेशों को पूरा करने के लिए हमेशा तैयार है. 

PoK वापस लेने पर फ़ौज का बड़ा बयान; कहा- भारत सरकार के आदेश का इंतेज़ार

Lt General Upendra Dwivedi: नॉर्थन फौज के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने कहा है कि हिन्दुस्तानी फ़ौज पाकिस्तान के क़ब्ज़े वाले कश्मीर को वापस लेने जैसे आदेशों को पूरा करने के लिए हमेशा तैयार है. उन्होंने कहा कि ​​भारतीय सेना पीओके को लेकर सरकार के किसी भी आर्डर को मानने के लिए तैयार है. नार्थ फौज के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल द्विवेदी ने कहा, "सेना हमेशा यह सुनिश्चित करने के लिए तैयार है कि सीज़ फायर  की ख़िलाफ़वर्ज़ी न हो, क्योंकि यह दोनों मुल्कों के हित में है, लेकिन अगर बॉर्डर पार से इसका उल्लंघन किया गया तो हम उन्हें करारा जवाब देंगे." उन्होंने कहा कि PoK के मामले पर पार्लियामेंट में तजवीज़ पास हो चुकी है. भारत सरकार जब भी ऑर्डर देगी फौज अपनी पूरी तैयारी के साथ आगे क़दम बढ़ाएगी.

 

'दहशतगर्दाना सरगर्मियों पर क़ाबू'
कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने कहा कि अगस्त 2019 में आर्टिकल 370 के प्रावधानों के रद्द होने के बाद केंद्र शासित प्रदेश में सिक्योरिटी के हालात में एक बड़ी तब्दीली आई है और दहशतगर्दाना सरगर्मियों पर काफी हद तक क़ाबू पाया गया है और रियासत में दहशतगर्दी पर लगाम लगी है. ऐतिहासिक 'पुंछ लिंक-अप डे' की प्लेटिनम जयंती के मौक़े पर आयोजित कार्यक्रम से अलग लेफ्टिनेंट जनरल द्विवेदी ने कहा, "जम्मू-कश्मीर में लगभग 300 दहशतगर्द मौजूद हैं, लेकिन हम यह यक़ीनी बनाने की कोशिश कर रहे हैं कि वे कोई एक्टिविटी नहीं कर पाएं".

'लगभग 160 दहशतगर्द एलओसी के पार मौजूद हैं'
घुसपैठ की फ़िराक़ में पाकिस्तान में मौजूद दहशतगर्दों की तादाद के बारे में पूछे जाने पर लेफ्टिनेंट जनरल द्विवेदी ने कहा कि लगभग 160 दहशतगर्द एलओसी के पार मौजूद हैं , जिनमें पीर पांचाल (कश्मीर घाटी) के नार्थ में 130 और पीर पांचाल के साउथ में 30 दहशतगर्द शामिल हैं. उन्होंने कहा, "हमारे आंकड़ों के मुताबिक़, 82 पाकिस्तानी दहशतगर्द और 53 मक़ामी दहशतगर्द अंदरूनी इलाक़ों में एक्टिव हैं, जबकि फ़िक्र इस बात की है कि 170 दूसरे दहशतगर्द आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं, जिनकी अभी पहचान नहीं हो सकी है.

Watch Live TV

Trending news