Uttarakhand Election Result 2022: क्या हुआ पूर्व मुख्यमंत्रियों के राजनीतिक वारिसों का, पिता की हार का बदला ले पाईं बेटियां?

Uttarakhand Election Result 2022: उत्तराखंड में बीजेपी एक बार फिर सरकार बनाने की तरफ बढ़ रही है. अब तक बीजेपी 48 सीटों पर बढ़त बना चुकी है. कांग्रेस लगातार दूसरे चुनाव में उत्तराखंड में कुछ खास करती नहीं दिख रही है. जानिए पूर्व मुख्यमंत्रियों के राजनीतिक वारिसों का इस चुनाव में क्या हुआ.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Mar 10, 2022, 03:50 PM IST
  • हरीश रावत की बेटी ने हरिद्वार ग्रामीण से जीता चुनाव
  • पूर्व सीएम खंडूड़ी की बेटी भी जीत की ओर बढ़ रहीं

ट्रेंडिंग तस्वीरें

Uttarakhand Election Result 2022: क्या हुआ पूर्व मुख्यमंत्रियों के राजनीतिक वारिसों का, पिता की हार का बदला ले पाईं बेटियां?

नई दिल्लीः Uttarakhand Election Result 2022: उत्तराखंड में बीजेपी एक बार फिर सरकार बनाने की तरफ बढ़ रही है. अब तक बीजेपी 48 सीटों पर बढ़त बना चुकी है. कांग्रेस लगातार दूसरे चुनाव में उत्तराखंड में कुछ खास करती नहीं दिख रही है. खुद हरीश रावत को चुनावी हार का सामना करना पड़ा. लेकिन, हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत ने चुनाव में जीत हासिल की. वहीं, पूर्व सीएम भुवन चंद खंडूड़ी के बेटी रितु खंडूड़ी भी अपनी सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र सिंह नेगी से आगे हैं.

अनुपमा रावत ने जीता चुनाव
हरीश रावत की बेटी ने हरिद्वार ग्रामीण सीट से चुनाव जीत लिया है. उन्होंने बीजेपी प्रत्याशी और मंत्री यतीश्वरानंद को हराया. इसके साथ ही अनुपमा ने पिछले चुनाव में अपने पिता की हार का बदला भी ले लिया. 

साल 2017 के विधानसभा चुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किच्छा और हरिद्वार ग्रामीण सीट से चुनाव लड़ा था और उन्हें दोनों ही सीटों से हार का सामना करना पड़ा था. हरिद्वार ग्रामीण सीट पर हरीश रावत को बीजेपी के यतीश्वरानंद ने 12,278 वोट से हराया था.

कोटद्वार से रितु खंडूड़ी आगे
कोटद्वार सीट से मैदान में उतरीं पूर्व सीएम भुवन चंद खंडूड़ी की बेटी रितु खंडूड़ी भी अपने पिता की हार का बदला लेती दिख रही हैं. वह कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र नेगी से आगे चल रही हैं. हालांकि, अभी 6 राउंड की वोटिंग होनी बाकी है. बता दें कि साल 2012 में पूर्व मुख्यमंत्री बीसी खंडूड़ी कोटद्वार विधानसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतरे थे. 

वह तब मुख्यमंत्री थे और उन पर बीजेपी को दोबारा सत्ता में लाने की भी जिम्मदारी थी, लेकिन खंडूड़ी न बीजेपी को सत्ता में ला पाए और न अपनी सीट बचा पाए. उन्हें कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र सिंह नेगी से हार का सामना करना पड़ा था.

सितारगंज से सौरभ बहुगुणा को मिली जीत
पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के बेटे सौरभ बहुगुणा ने सितारगंज विधानसभा सीट से दूसरी बार चुनाव लड़ा. पिछले चुनाव में भी उन्होंने जीत हासिल की थी. इस चुनाव में सौरभ बहुगुणा ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस प्रत्याशी नवतेज पाल सिंह को हराया.

यह भी पढ़िएः Uttarakhand Election Result 2022: बीजेपी को प्रचंड जीत की ओर ले जा रहे सीएम धामी को खटीमा से पीछे करने वाले भुवन कापड़ी कौन?

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़