Team India: टीम इंडिया के इस बल्लेबाज ने आलोचकों को दिया तगड़ा जवाब, दिया ये चौंकाने वाला बयान

Team India: टीम इंडिया के इस बल्लेबाज ने आलोचकों को दिया तगड़ा जवाब, दिया ये चौंकाने वाला बयान

Team India: टीम इंडिया के एक युवा बल्लेबाज ने अपने खेल पर बड़ा बयान दिया है. इस खिलाड़ी ने अपने ऊपर सवाल उठाने वालों को भी कड़ा जवाब दिया है. 

Team India: टीम इंडिया के इस बल्लेबाज ने आलोचकों को दिया तगड़ा जवाब, दिया ये चौंकाने वाला बयान

Team India: टीम इंडिया का वेस्टइंडीज दौरा काफी सफल रहा. टीम इंडिया ने वनडे सीरीज के बाद टी20 सीरीज में भी आसान जीत दर्ज की. इस दौरे पर भारत के एक युवा बल्लेबाज का प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा. ये खिलाड़ी 18 महीने बाद टीम इंडिया के लिए वनडे क्रिकेट खेला था. इस खिलाड़ी ने हाल ही में एक बड़ा बयान देते हुए आलोचकों को करारा जवाब दिया है. ये खिलाड़ी आने वाले समय में टीम इंडिया का स्टार खिलाड़ी भी माना जाता है. 

इस खिलाड़ी ने दिया बड़ा बयान

वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई वनडे सीरीज में शिखर धवन के साथ बतौर ओपनर शुभमन गिल (Shubman Gill) को खेलने को मिल था. शुभमन गिल (Shubman Gill) ने लंबे समय बाद वनडे टीम में वापसी की थी. गिल की बल्लेबाजी की बात होती है, तो अक्सर उनके स्ट्राइक रेट को निशाना बनाया जाता है. उन्होंने हाल ही में टेलीग्राफ इंडिया से बातचीत के दौरान सवाल उठाने वालों को कड़ा जवाब दिया है जो उन्हें व्हाइट बॉल क्रिकेट में अच्छे स्ट्राइक रेट से खेलने में असमर्थ बताते हैं.

आलोचकों से कही ये बड़ी बात 

इंटरव्यू में दौरान शुभमन गिल (Shubman Gill) ने कहा, 'मुझे लगता है कि सवाल हमेशा उठते रहेंगे, लेकिन मुझे वास्तव में इस बात की परवाह नहीं है कि लोग क्या कह रहे हैं, जब तक कि मैं अपनी टीम की सफलता में योगदान देने में सक्षम हूं, और जब तक मैं वही कर रहा हूं जो मेरा टीम प्रबंधन और मेरा कप्तान उम्मीद करता है. गिल वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की 3-0 वनडे सीरीज जीत के सबसे बड़े सितारों में से एक थे, उन्होंने तीन पारियों में 205 रन बनाए और प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार से नवाजा गया.

विंडीज दौरे पर अपने प्रदर्शन से हैं संतुष्ट 

वेस्टइंडीज का दौरा शुभमन गिल (Shubman Gill) के लिए काफी अच्छा रहा. इस दौरे पर उन्होंने खूब रन भी बनाए. शुभमन गिल (Shubman Gill)  ने अपने प्रदर्शन पर बात करते हुए कहा, 'मैं काफी संतुष्ट हूं, लेकिन यह कहते हुए कि मैं पहले दो मैचों में आउट होने के तरीके से बहुत खुश नहीं था. वेस्टइंडीज में उन रनों को स्कोर करना मेरे लिए वास्तव में एक अच्छा अनुभव था और हां, उन मौकों को प्राप्त करना भी सहायक था.' उन्होंने आगे कहा, 'लेकिन मेरे लिए यह भी महत्वपूर्ण होगा कि मैं इन प्रदर्शनों का समर्थन करता रहूं और कंसिस्टेंट रहूं, और अपनी टीम के लिए अधिक से अधिक रन बनाता रहूं.'

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news