Health Tips: हल्के में न लें तलवों का पसीना, हो सकता है इन बीमारियों का संकेत
topStories1hindi1440848

Health Tips: हल्के में न लें तलवों का पसीना, हो सकता है इन बीमारियों का संकेत

Diseases Symptoms: कई गंभीर बीमारियों से पहले शरीर में कुछ संकेत दिखाई देते हैं. लेकिन हम इन्हें नजरअंदाज कर देते हैं. पैरों में पसीने का आना भी बीमारियों का संकेत है. 

Health Tips: हल्के में न लें तलवों का पसीना, हो सकता है इन बीमारियों का संकेत

Sweating  In Foot: पैरों में पसीना आना आम है. गर्मियों के दिनों में तो सभी को पसीना आता है, लेकिन अगर आपको अचानक से पैरों के तलवों में पसीना आने लगे तो ये गंभीर बीमारियों का संकेत  हो सकता है. पैरों के तलवे में पसीना आना सामान्य नहीं है, ये बीमारियों की वजह बन सकता है.तलवों के साथ अंडरआर्म्स, हथेलियां और पीठ में भी पसीना बीमारियों का संकेत है, इसे वक्त पर पहचानकर देखभाल करना जरूरी है. 

डायबिटीज (Diabetes) 

पैरों के तलवे में पसीना आना डायबिटीज का लक्षण होता है. इसमें शरीर में शुगर का लेवल बढ़ जाता है और पैरों में पसीना आता है. अगर आपको कुछ खाने के बाद अचानक पैरों के तलवे में पसीना आए तो ये डायबिटीज का संकेत हो सकता है, इसे हल्के में न लें.

हार्ट प्रॉब्लम्स (Heart Problems) 

हार्ट से जुड़ी बीमारियां होने की वजह से अक्सर पैरों के तलवों में पसीना आता है. अगर आपको घबराहट के साथ पैरों में पसीना दिखाई दे, पसीने से तलवे ठंडे पड़ जाएं तो ये हार्ट प्रॉब्लम्स का संकेत हो सकता है. हार्ट अटैक के पहले भी ये लक्षण दिखाई देता है. सीने में दर्द के साथ भी अगर पसीना आए तो हार्ट से जुड़ी कोई बीमारी हो सकती है.

मेनोपॉज (Menopause)

जब महिलाओं का मासिक धर्म बंद होने पर आता है तो इसे मेनोपॉज कहते हैं. मेनोपॉज से पहले घबराहट के साथ पैरों के तलवे में पसीना आने जैसे लक्षण दिखाई देना आम हैं. अगर महिलाओं में 40 की उम्र के बाद लगातार ऐसे लक्षण दिखें तो मेनोपॉज का संकेत हो सकता है.

थायरॉइड (Thyroid) 

थायरॉइड होने पर शरीर में कई लक्षण दिखाई देते हैं, जिनमें से पैरों में पसीना आना भी एक लक्षण है. थायरॉइड एक गंभीर बीमारी है, इसके लक्षण वक्त रहते समझ लिए जाएं और इलाज शुरू कर दिया जाए तो गंभीर होने से रोका जा सकता है. 

अन्य बीमारियां

पैरों के तलवे में पसीना आने की कई और वजहें हो सकती हैं.  इंफेक्शन की वजह से भी तलवों में पसीना आ सकता है. ये फंगल इंफेक्शन भी हो सकता है. फेफड़ों में दिक्कत होने, दवाइयों का ज्यादा सेवन या फिर स्ट्रोक की वजह से भी पैरों के तलवों में पसीना आ सकता है. 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारियों पर आधारित है. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

ये स्टोरी आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर)

Trending news