Uttarakhand CM: अब उपचुनाव पर है धामी की नजर, इस सीट से लड़कर कांग्रेस को दे सकते हैं झटका
topStories0hindi1130760

Uttarakhand CM: अब उपचुनाव पर है धामी की नजर, इस सीट से लड़कर कांग्रेस को दे सकते हैं झटका

Uttarakhand By Election: अपनी सीट से चुनाव हार गए पुष्कर धामी के लिए करीब 5 भाजपा विधायकों ने अपनी सीट छोड़ने की घोषणा कर दी थी. ऐसे में माना जा रहा है कि धामी के लिए आसानी से खाली सीट मिल जाएगी. चम्पावत विधायक कैलाश गहटोडी, लालकुआं विधायक डॉ. मोहन सिंह बिष्ट, जागेश्वर विधायक मोहन सिंह मेहरा, रुड़की के विधायक प्रदीप बत्रा और कपकोट विधायक सुरेश गाडिया पहले ही कह चुके हैं कि वे सीट छोड़ने के लिए तैयार हैं.

Uttarakhand CM: अब उपचुनाव पर है धामी की नजर, इस सीट से लड़कर कांग्रेस को दे सकते हैं झटका

Pushkar Dhami in Uttarakhand By Election: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 में बीजेपी ने जीत हासिल कर सरकार बनाने की तैयारी शुरू कर दी है. सीएम के नाम का भी ऐलान कर दिया गया है और एक बार फिर जनता के पसंदीदा सीएम पुष्कर धामी राज्य को वापस मिलने वाले हैं. हालांकि, वह अपनी विधानसभा सीट खटीमा से चुनाव हैर गए थे. ऐसे में अब धामी की नजर उपचुनाव पर है. 

आमजन को बड़ा झटका! LPG Cylinder के दाम 50 रुपये बढ़े, अब यह है नया रेट

इन सीटों से चुनाव लड़ने के कयास
जानकारी के मुताबिक, उपचुनाव में कार्यवाहक सीएम पुष्कर धामी पिथौरागढ़ जिले की डीडीहाट या चम्पावत सीट से खड़े हो सकते हैं. वहीं, यह भी कहा जा रहा है कि धामी कपकोट और लालकुआं सीटों से भी इलेक्शन लड़ सकते हैं. 

कांग्रेस में भी सेंधमारी का प्लान
उत्तराखंड बीजेपी का प्लान कांग्रेस में भी सेंधमारी करने का है. क्योंकि इसके जरिए धामी खुद को और मजबूत कर सकते हैं. बताया जा रहा है कि सूबे से कांग्रेस के कुछ विधायक अभी भाजपा के संपर्क में हैं.

Petrol Diesel Price: आखिर 137 दिन बाद बढ़े पेट्रोल डीजल के दाम, गाड़ी की टंकी फुल कराने से पहले चेक करें नया रेट

गौरतलब है कि अपनी सीट से चुनाव हार गए पुष्कर धामी के लिए करीब 5 भाजपा विधायकों ने अपनी सीट छोड़ने की घोषणा कर दी थी. ऐसे में माना जा रहा है कि धामी के लिए आसानी से खाली सीट मिल जाएगी. चम्पावत विधायक कैलाश गहटोडी, लालकुआं विधायक डॉ. मोहन सिंह बिष्ट, जागेश्वर विधायक मोहन सिंह मेहरा, रुड़की के विधायक प्रदीप बत्रा और कपकोट विधायक सुरेश गाडिया पहले ही कह चुके हैं कि वे सीट छोड़ने के लिए तैयार हैं. इनके अलावा, खानपुर से निर्दलीय विधायक उमेश कुमार ने अपनी सीट छोड़ने का ऐलान कर चुके थे, लेकिन कुछ शर्तों पर. 

सबसे उपयुक्त सीट डीडीहाट
बता दें, विशेषज्ञों के अनुसार, पिथौरागढ़ की डीडीहाट सीट धामी के लिए सबसे उपयुक्त मानी जा रही है, क्योंकि यह उनका पैतृक गांव भी है. इसके अलावा, चंपावत सीट की भी अलग एक खासियत है. पहली तो यह कि यह सीट बीजेपी का गढ़ मानी जाती है. दूसरी यह कि यह सीट खटीमा से जुड़ी हुई है. ऐसे में यह सीट सुरक्षित हा और यहां के विधायक भी अपनी सीट छोड़ने की पेशकश कर चुके हैं.

क्या आपको भी वापस करनी पड़ेगी PM Kisan Yojana की किस्त? जाने लें क्या हुए बदलाव

कांग्रेस में कैसे करेंगे सेंधमारी?
फिलहाल, यह जानकारी भी मिल रही है कि पुष्कर सिंह धामी अपनी नजर कांग्रेस पर बनाए हुए हैं. अगर वह कांग्रेस में सेंधमारी कर ले जाते हैं तो पार्टी के नेतृत्व की नजर में उनका कद और बढ़ जाएगा. ऐसे में माना जा रहा है कि वह कांग्रेस के किसी विधायक से सीट खाली करवा सकते हैं. वहीं, यह भी बताया जा रहा है कि कांग्रेस के हारने के बाद पार्टी के कुछ विधायर नाराज हो गए हैं, जो अब बीजेपी के कॉन्टैक्ट में आ रहे हैं.

WATCH LIVE TV

Trending news