विकास जाखड़ का विधानसभा घेराव आज, REET और CM Gehlot को लेकर कही ये बड़ी बात
topStories1rajasthan1097638

विकास जाखड़ का विधानसभा घेराव आज, REET और CM Gehlot को लेकर कही ये बड़ी बात

रीट (REET) समेत अन्य भर्ती परीक्षाओं की सीबीआई जांच (CBI Probe In REET) कराने की मांग को लेकर आज शौर्य चक्र प्राप्त विकास जाखड़ (Vikas Jakhar) ने विधानसभा घेराव का ऐलान कर रखा है, जिसके लिए आज सुबह विकास जाखड़ (Vikas Jakhar News) निजी गाड़ियों के काफिले के साथ गांव जाखड़ों का बास से रवाना हुए.

विकास जाखड़ का विधानसभा घेराव आज, REET और CM Gehlot को लेकर कही ये बड़ी बात

Jhunjhunu: रीट (REET) समेत अन्य भर्ती परीक्षाओं की सीबीआई जांच (CBI Probe In REET) कराने की मांग को लेकर आज शौर्य चक्र प्राप्त विकास जाखड़ (Vikas Jakhar) ने विधानसभा घेराव का ऐलान कर रखा है, जिसके लिए आज सुबह विकास जाखड़ (Vikas Jakhar News) निजी गाड़ियों के काफिले के साथ गांव जाखड़ों का बास से रवाना हुए.

यह भी पढ़ें- CM Gehlot से मसूदा विधायक राकेश पारीक ने की अपील, इन मुख्य मांगों को लेकर सौंपा प्रस्ताव

इस मौके पर उन्होंने बताया कि उन्हें रात से प्रशासन द्वारा परेशान किया जा रहा है. उनसे आंदोलन की रणनीति मीडिया पर्सन्स बनकर पूछी जा रही है. वहीं, उन्हें जानकारी मिली है कि जयपुर (Jaipur News) से पहले ही युवाओं को रोकने और आंदोलन को तोड़ने की साजिश सरकार रच रही है, लेकिन वे बता देना चाहते है कि उनका गोल एकदम साफ है. वे सीबीआई जांच कराकर ही दम लेंगे. उन्होंने कहा कि यदि सरकार सीबीआई जांच करवाती है तो एग्जाम से जुड़े कई बड़े नामों का कॅरिअर खत्म हो जाएगा. 

यही डर सरकार और सीएम (Ashok Gehlot) को सता रहा है. यदि सरकार साफ सुथरी है तो वह क्यों नहीं सीबीआई जांच करवा लेती. इससे तो सरकार की छवि और अधिक सुधरेगी. लेकिन मुख्यमंत्री अपने चेहेतों को बचाने के लिए अपनी खुद की छवि को दाव पर लगा चुके है. उन्होंने कहा कि छोटे छोटे मामलों में सरकार सीबीआई जांच करवा लेती है, लेकिन यह तो 26 लाख युवाओं से जुड़ा सवाल है. 

उन्होंने कहा कि जो रीट लेवल दो (REET Level 2) की परीक्षा रद्द की गई है. वो भी सरकार का आंदोलन का ध्यान भटकाने का कदम है. अब रीट लेवल दो (REET Exam 2021) के युवा आंदोलन से किनारा कर रहे है, लेकिन विकास जाखड़ (Vikas Jakhar Protest) ने ना केवल रीट लेवल दो, बल्कि भर्ती परीक्षा में शामिल होने वाले हर युवा से अपील की है कि हम केवल एक परीक्षा के लिए लड़ाई नहीं लड़ रहे. बल्कि इस सिस्टम को सुधारने के लिए लड़ाई लड़ रहे है. फिर कांस्टेबल से लेकर आरएएस (RAS) तक की परीक्षा साफ-सुथरी हो. क्योंकि जब तक बड़े रसूखदार लोग 10-12 सालों के लिए जेल नहीं जाएंगे तब तक इन माफियाओं में खौफ नहीं होगा. 
Report- Sandeep Kedia

Trending news