photoDetails1hindi

IAS Success Story: 2 बार नहीं पास कर पाईं प्रीलिम्स, तीसरी बार में ऐसे की तैयारी आई 6th रैंक

UPSC Exam को देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक माना जाता है. जहां कई कैंडिडेट्स पहले ही अटेंप्ट में अफसर बन जाते हैं, वहीं कई कैंडिडेट्स कुछ प्रयासों के बाद सफलता की सीढ़ी चढ़ते हैं. आज हम दिल्ली की विशाखा यादव के बारे में बात करने जा रहे हैं, जो पहले दो अटेंप्ट में प्रारंभिक परीक्षा पास नहीं कर पाईं, लेकिन उन्होंने अपने तीसरे अटेंप्ट में शानदार परफोर्म किया और ऑल इंडिया रैंक 6 हासिल की.

1/5

विशाखा दिल्ली के द्वारका की रहने वाली हैं और वह बचपन से ही पढ़ाई में अच्छी रही हैं. स्कूल के बाद उन्होंने दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी से ग्रुजेशन किया और नौकरी करनी शुरू कर दी. दो साल नौकरी करने के बाद विशाखा ने यूपीएससी की तैयारी शुरू की और उनके परिवार ने भी उनका पूरा साथ दिया.

2/5

यूपीएससी की तैयारी का फैसला उनके लिए कठिन साबित हुआ और वह पहले दो अटेंप्ट में प्रीलिम्स परीक्षा पास नहीं कर पाईं. असफलता के बावजूद उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और तीसरे अटेंप्ट की तैयारी में जुट गईं.

3/5

असफलता के बावजूद विशाखा यादव ने हार नहीं मानी और तीसरे अटेंप्ट में न केवल परीक्षा पास की बल्कि ऑल इंडिया रैंक 6 भी हासिल की. ​​उन्होंने बताया कि पहले दो अटेंप्ट के लिए उन्होंने काफी स्टडी मैटेरियर तैयार किया था.

 

4/5

विशाखा ने रिवीजन पर ध्यान नहीं दिया, न ही उन्होंने प्रीलिम्स के पहले मॉक टेस्ट पर फोकस किया था. अन्य उम्मीदवारों को उनकी सलाह है कि उन्हें प्रारंभिक परीक्षा से पहले ज्यादा से ज्यादा मॉक टेस्ट देने चाहिए.

5/5

विशाखा का मानना है कि सिविल सर्विसेज की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को रोजाना 6 से 8 घंटे लगातार पढ़ाई करने की जरूरत है. कई किताबों की जगह कुछ सीमित किताबों को पढ़ने पर ध्यान दें और उत्तर लिखने की प्रक्टिस करें, अपनी गलतियों को समझें और उन्हें लगातार सुधारते हुए हर दिन बेहतर करने पर फोकस करें.

photo-gallery